आन लाइन नामांकन का विकल्प भी रहेगा

371

कोरोना और ओमीक्रान के बढ़ते मामलों को देखते हुए उत्तर प्रदेश में इस बार विधानसभा चुनाव में उम्मीदवार को आनलाइन नामांकन का विकल्प भी उपलब्ध रहेगा। प्रशासन का मानना है कि यदि प्रत्याशी इस सुविधा का उपयोग करेंगे तो उन्हें नामांकन के समय होने वाले तामझाम और खर्च से मुक्ति मिलेगी और जिला प्रशासन को भी अतिरिक्त व्यवस्था नहीं करनी होगी।

इस बार दिव्यांग और 80 वर्ष से अधिक के वरिष्ठ मतदाताओं को घर से डाक मतपत्र द्वारा मतदान का अधिकार भी दिया गया है। जिला प्रशासन ने अपने स्तर पर चुनाव आयोग की आचार संहिता को लागू कराने की कार्रवाई भी शुरू कर दी है।

उधर राजनीतिक दलों ने भी स्थानीय स्तर पर डिजिटल प्रचार माध्यमों से प्रचार के लिए कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है। एन सी आर के गुरुग्रंम, नोएडा और दिल्ली में स्थानीय नेताओं को प्रशिक्षण दिलाने के लिए भेजा जा रहा है।