'तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन'  गाने वाले गायक ने बंधन तोड़ लिया! स्मृति शेष :  एसपी बाला सुब्रह्मण्यम

'तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन' गाने वाले गायक ने बंधन तोड़ लिया! स्मृति शेष : एसपी बाला सुब्रह्मण्यम

मीडियावाला.इन।

इस साल के बीतने से पहले बॉलीवुड से एक और बुरी खबर आई! मखमली आवाज के धनी एसपी बाला सुब्रह्मण्यम उर्फ़ 'एसपी' को कोरोना महामारी ने हमसे छीन लिया। उन्होंने लम्बे समय तक इस बीमारी से संघर्ष किया। उनकी स्थिति में सुधार भी हो रहा था, पर अचानक सबकुछ ख़त्म हो गया। एक समय ऐसा भी आया जब बाला सुब्रह्मण्यम ने वीडियो जारी करके अपने चाहने वालों को जल्द ठीक होने की जानकारी दी! पर, शायद नियति को ये मंजूर नहीं था। 74 साल के एसपी बालासुब्रह्मण्यम ने हिंदी फिल्मों में अपनी गायिकी से अलग पहचान बनाई। आज वे नहीं हैं, पर उनके गाने आज भी हम सबके जहन में हैं। दक्षिण भारत के गायक एसपी बाला सुब्रह्मण्यम ने 16 भारतीय भाषाओं में 40 हजार से ज्यादा गाने गाए। उन्हें पद्मश्री (2001) और पद्मभूषण (2011) जैसे राष्ट्रीय सम्मानों सहित कई फ़िल्मी अवॉर्ड्स भी मिले। 

तमिल, तेलुगु और कन्नड़ के गायक बाला सुब्रह्मण्यम दक्षिण भारत में पैदा हुए, पर उनका कहना था कि गाना गाने का सही भाव और प्रेरणा उन्हें हिंदी गानों से मिली! वे मोहम्मद रफी के बड़े प्रशंसक थे। एक कार्यक्रम में उन्होंने सोनू निगम को बताया था कि मैं साइकल से कॉलेज जाया करता था, तब रफ़ी साहब का गाना मेरे साथ होता था 'दीवाना हुआ मौसम।' बाला सुब्रह्मण्यम की हस्ती और हुनर हिंदी फिल्मों के दायरे से कहीं बड़ा था। इसका अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने चार अलग-अलग भाषाओं में छ: नेशनल अवॉर्ड जीते थे। शुरुआती दिनों में बाला सुब्रह्मण्यम एक म्यूज़िकल ग्रुप में थे, जिसमें इलिया राजा भी हुआ करते थे। तब बाला सुब्रह्मण्यम और इलिया राजा को कोई जानता था। बाला सुब्रह्मण्यम न सिर्फ गायक थे, बल्कि एक हरफन मौला कलाकार और डबिंग आर्टिस्ट भी थे।

हिंदी में उन्होंने पहली बार कमल हसन के लिए 1981 में 'एक दूजे के लिए' गाया था। इस फिल्म के गानों ने उन्हें बेस्ट मेल सिंगर का नेशनल अवॉर्ड मिला था। गीत था 'तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन अंजाना।' सलमान खान के लिए उन्होंने 1989 में 'मैंने प्यार किया' से गाना शुरू किया और उनकी आवाज बन गए। इस फिल्म के सभी गाने बाला सुब्रह्मण्यम ने ही गाए थे, जो सुपरहिट हुए! उसके बाद उन्होंने सलमान के करियर की शुरुआती फिल्मों के सभी गाने गाए। 'मैंने प्यार किया' के बाद 'साजन' या फिर 'हम आपके हैं कौन' फ़िल्मों में भी सलमान को एसपी बाला सुब्रह्मण्यम ने ही आवाज दी। फिर इस अनोखे गायक ने हिंदी फिल्मों कई बड़े कलाकारों के लिए अपनी आवाज दी। 

नई पीढ़ी के फिल्मों के शौकीन उनके नाम से भले वाकिफ न हों, पर उनके गाने ही उनकी पहचान हैं। चेन्नई एक्प्रेस का टाइटल गाना एसपी बाला सुब्रह्मण्यम ने ही गाया था। हिंदी सिनेमा को कई सुपर हिट गाने देने वाले इस गायक की लिस्ट में सच है मेरे यार ये', ओ मारिया, दिल दीवाना, कबूतर जा जा, आजा शाम होने आई, मेरे रंग में रंगने वाली, दीदी तेरा देवर दीवाना, पहला पहला प्यार है के अलावा 'रोजा' और 'जानेमन' जैसी कई फिल्मों के गाने हैं, जो उनकी याद दिलाएंगे। बाला सुब्रह्मण्यम ने दक्षिण में कमल हासन, रजनीकांत, एमजीआर से लगाकर हिंदी में सलमान और शाहरुख खान तक के लिए गाया। गुरुवार को उनकी हालत अचानक बिगड़ने पर सलमान खान ने उनके जल्द स्वस्थ होने की दुआ की थी। उन्होंने ट्वीट किया था, बाला सुब्रमण्यम सर, आप जल्द ठीक हों इसके लिए दिल की गहराइयों से पूरी ताकत और दुआएं देता हूं। आपने जो भी गाना मेरे लिए गाया उसे खास बनाने के लिए धन्यवाद! आपका दिल दीवाना हीरो प्रेम, लव यू सर। पर, दुःख की बात ये कि यह दुआ भी काम नहीं आई!

RB

0 comments      

Add Comment