Fire Incident : अग्निकांड के आरोपी ने दूसरी बार के रिमांड में कई राज खोले! 

वारदात के बाद घर में छिपाए पेट्रोल से भीगे कपड़े भी जब्त

755
Indore Fire AccidentLover Set Fire : आग से 7 लोगों के मारे जाने की घटना सिरफ़िरे आशिक की करतूत 

Indore : स्वर्णबाग कॉलोनी में हुए भीषण अग्निकांड में पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपी शुभम दीक्षित से पूछताछ में एक बात तो साफ हो गई कि उसने एकतरफा प्यार में ही बिल्डिंग में आग लगाई थी, जो सात लोगों की मौत का कारण बनी।

आरोपी ने घटना के बाद पेट्रोल से भीगे कपड़े घर में छुपा दिए थे, जो पुलिस ने बरामद कर लिए। पुलिस ने आरोपी का दूसरी बार रिमांड लिया। इस दौरान भी उससे कड़ी पूछताछ जारी है।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार संजय उर्फ शुभम पिता देवेंद्र दीक्षित निवासी झांसी से पूछताछ चल रही है। पुलिस घटना का नाट्य रुपांतरण करवा कर जानना चाहती है, कि आरोपी झूठ तो नहीं बोल रहा।

उसके द्वारा बताई जाने वाली सारी जानकारियों का सीसीटीवी फुटेज से मिलान किया जाएगा।

उधर, पुलिस ने निरंजनपुर क्षेत्र में उसके घर दबिश देकर उसके कपड़े भी जब्त कर लिए। आरोपी ने आग लगाने के बाद जैसे ही मीडिया पर खबर देखी सबसे पहले कपड़े छुपाए।

अधिकारियों के अनुसार संजय से बाइक, मोबाइल, माचिस और पेट्रोल की बोतल जब्त कर ली है।

उसके फोन पर युवती को भेजे गए संदेश और धमकी भरी वाइस रिकार्डिंग भी मिली है। घटना के बाद उसकी आकाश नामक युवक से बात हुई थी।

उससे कहा था कि मैंने बड़ा कांड कर दिया। अब पुलिस आकाश को भी गवाह बना रही है। पुलिस ने उस युवती से भी पूछताछ की, जिससे संजय का कथित प्रेम प्रसंग चल रहा था।

युवती ने कहा कि उसकी पिछले साल लॉकडाउन में संजय से दोस्ती हुई थी। संजय की मकान मालिक की बेटी से भी बातचीत थी।

परिचय के बाद संजय युवती के साथ गोआ घूमने भी गया था। छह माह पूर्व दोनों में अनबन हो गई और संजय ने रूम खाली कर दिया।

जैसे ही युवती का ग्रीन पार्क कॉलोनी में रहने वाले युवक से रिश्ता तय हुआ, उसने रुपयों की मांग शुरू कर दी। वह गाड़ी छीनने की धमकी भी देता था।

कुछ दिनों पूर्व उसके साथ मारपीट भी की थी। नंबर ब्लॉक करने पर संजय एप के माध्यम से इंटरनेट कालिंग कर उसे धमकाता था।