उज्जैन में महाकाल लोक में तेज आंधी से खंडित हुई मूर्तियां, श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक

1809

उज्जैन में महाकाल लोक में तेज आंधी से खंडित हुई मूर्तियां, श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक

उज्जैन से मुकेश व्यास की रिपोर्ट

उज्जैन। मौसम में आये अचानक बदलाव के कारण उज्जैन में आज तेज आंधी चली। तेज आंधी और बारिश के कारण कुछ समय के लिए जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया।आज दोपहर बाद चली आंधी में महाकाल लोक में स्थापित सप्तऋषियों की छः मूर्तियां भी गिर गईं। इस वक्त कई श्रद्धालु महाकाल लोक में थे। श्रद्धालु परिसर से बाहर आ गये।

तेज आंधी में गिरी मूर्तियां लाल पत्थर और फाइबर रेनफोर्स प्लास्टिक से बनी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत वर्ष 11 अक्टूबर को उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर के नए परिसर महाकाल लोक का लोकार्पण किया था।
मूर्तियां गिरने की सूचना मिलते ही प्रशासनिक अधिकारियों की टीम महाकाल लोक पहुंच गई। श्रद्धालुओं को बाहर किया गया।

WhatsApp Image 2023 05 28 at 7.09.43 PM 1

कलेक्टर कुमार पुरषोत्तम का कहना है कि बहुत तेज आंधी आने के कारण मूर्तियां पेडस्टल से नीचे गिरी हैं।पत्थर की मूर्तियां बनने में समय लगेगा। फिलहाल कंपनी को ही इनका रखरखाव करना है। क्रेन की मदद से मूर्तियों को दोबारा लगवाया जाएगा। घटना के बाद महाकाल लोक में श्रद्धालुओं का प्रवेश बंद किया गया है।

कांग्रेस ने महाकाल लोक की सुदृढता और उसके कार्यो की विश्वसनीयता, तथा महाकाल लोक की जीवन अवधि को लेकर हुए भ्रष्टाचार की बात करते हुए खंडित मूर्तियों के सामने प्रदर्शन किया।तेज आंधी चली तथा रिमझीम बारिश हुई। जिसके चलते महाकाल लोक में स्थापित सप्तऋषि और महादेव की स्थापित मूतियां आंधी में उड कर नीचे जमीन पर गिर कर खंडित हो गई। मूर्तियों के उड़ने से महाकाल लोक में मौजूद श्रद्धालुओं में अफरा तफरी का माहौल देखा गया।

आज तेज आंधी के कारण सांदीपनि आश्रम के सामने स्थित पेड़ भई गिर गया।जिसमें एक कार दब गई थी।कार चालक घायल हो गया।सुभाष नगर में आम के पेड़ का हिस्सा गिरने से एक नई कार क्षतिग्रस्त हो गई।

WhatsApp Image 2023 05 28 at 7.09.43 PM

तेज आंधी के कारण उज्जैन में जिले में कई स्थानों पर पेड़ गिरने एवं बिजली गिरने की सूचना है।नागदा में ओले गिरे कुछ मकानों को भी नुकसान हुआ है।