IPL 2022 : वेस्टइंडीज में मां बीमार, बेटा यहां धमाके कर रहा

1080

IPL 2022 : वेस्टइंडीज में मां बीमार, बेटा यहां धमाके कर रहा

Mumbai : राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) में एक ऐसा खिलाड़ी है, जिसने अपने निजी जीवन की परेशानी के बावजूद खुद को मैदान पर बेहतरीन प्रदर्शन के लिए प्रेरित किया और टीम को IPL 2022 के फाइनल में पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। ये खिलाड़ी हैं वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज ओबेड मैकॉय (Obed McCoy).

IPL में हर बार कुछ ऐसे खिलाड़ी उभरकर आते हैं, जिनकी पृष्ठभूमि संघर्षों और कुर्बानियों की कहानी बताती है। बाहरी देशों के कई युवा और अनजान से भारतीय खिलाड़ी इन सभी हालातों से निकलकर इस लीग में अपना नाम चमका रहे हैं। इनमें कई विदेशी खिलाड़ी भी हैं, जो विपरीत हालातों में जूझकर आज सफलता के शिखर पर हैं।

राजस्थान रॉयल्स ने शुक्रवार 27 मई को दूसरे क्वालिफायर में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 7 विकेट से हराया। इसके साथ ही IPL सीजन के फाइनल में अपनी जगह बनाई। राजस्थान की इस जीत में जॉस बटलर के शतक और प्रसिद्ध कृष्णा के घातक स्पैल की ही हो रही है। लेकिन, मैकॉय ने भी दमदार योगदान दिया। Obed McCoy ने 4 ओवरों में सिर्फ 23 रन देकर 3 विकेट लिए। जिसमें RCB के कप्तान फाफ डुप्लेसी का सबसे अहम विकेट भी था। साथ ही मैकॉय ने ग्लेन मैक्सवेल का शानदार डाइव के साथ मुश्किल कैच भी लपका और डेथ ओवरों में रनों पर नकेल कसी।

मां बीमार पर खेल पर ध्यान

ओबेड मैकॉय के इस प्रदर्शन ने भी राजस्थान की इस यादगार जीत में अहम भूमिका निभाई। भले ही प्रसिद्ध और बटलर के सामने इसकी चर्चा नहीं हो रही, लेकिन टीम के कोच कुमार संगकारा इसका जिक्र करना नहीं भूले। संगकारा ने बताया कि मैकॉय का प्रदर्शन इसलिए भी खास है, क्योंकि वे अपनी मां की बीमारी के कारण परेशान थे। मैकॉय की मां वेस्टइंडीज में काफी बीमार हैं और उसे (ओबेड को) इन सबसे जूझना पड़ रहा था और फिर भी उसने अपना पूरा ध्यान लगाया और आज जबरदस्त प्रदर्शन किया. वह अब ठीक हो रही हैं।

RR के लिए फायदे का सौदा

25 साल के बाएं हाथ के मीडियम पेसर ओबेड मैकॉय ने IPL-2022 में ही अपना डेब्यू किया है। राजस्थान ने उन्हें मेगा ऑक्शन में सिर्फ 75 लाख रुपए के बेस प्राइस पर खरीदा था और अब ये दमदार सौदा साबित हो रहा है। मैकॉय ने इस सीजन की 6 पारियों में ही 11 विकेट हासिल कर लिया और अब फाइनल में गुजरात टाइटंस के खिलाफ उनके पास राजस्थान को खिताब जिताने का अच्छा मौका है, जिसके लिए वह फिर से पूरे ध्यान के साथ तैयार होंगे।