Iran’s President Ebrahim Raisi Dies in Helicopter Crash:विदेश मंत्री समेत 9 लोग सवार थे, सभी मारे गए, हेलीकॉप्टर का मलबा मिला

702

ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी का हेलिकॉप्टर क्रैश में निधन:विदेश मंत्री समेत 9 लोग सवार थे, सभी मारे गए

तेहरान: ईरान के राष्ट्रपति इब्राहिम रईसी और विदेश मंत्री अब्दुल्लाहियान की हेलीकॉप्टर हादसे में मौत हो गई है। बचाव दल को दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर मलबा मिल गया है। तुर्की की समाचार एजेंसी अनादोलू ने ईरानी के सरकारी टीवी के हवाले से ये जानकारी दी है। दुर्घटनास्थल की जो पहली तस्वीर सामने आई है, उसमें हेलीकॉप्टर की स्थिति ठीक नहीं लग रही है। हेलीकॉप्टर की जिस जगह पर हार्ड लैंडिंग हुई है, वह पहाड़ी इलाका है। इब्राहिम रईसी का हेलीकॉप्टर रविवार को पूर्वी अजरबैजान प्रांत में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। वे अजरबैजान की सीमा पर एक बांध का उद्घाटन करके वापस लौट रहे थे। राष्ट्रपति रईसी के साथ हेलीकॉप्टर में उनके सहयोगी विदेश मंत्री होसैन अमीर अब्दुल्लाहियान भी सवार थे।

 

इसके पहले राष्ट्रपति रईसी के हेलीकॉप्टर की तलाश के लिए रात पर अभियान चलाया गया था, लेकिन रेस्क्यू टीमें पता लगाने में नाकाम रहीं थीं। सोमवार तड़के तुर्की के ड्रोन ने दुर्घटना वाले संभावित क्षेत्र में एक जलती हुई चीज का पता लगाया था, जिसके बारे में अनुमान लगाया गया था कि यह हेलीकॉप्टर का मलबा हो सकती है।

Ebrahim Raisi

ड्रोन फुटेज आने के कुछ देर बाद ईरान के रेड क्रिसेंट सोसायटी के प्रमुख ने ईरानी समाचार एजेंसी फार्स न्यूज को फोन पर बताया कि रेस्क्यू टीम को हेलीकॉप्टर मिल गया है और वे उस तरफ बढ़ रहे हैं। रेड क्रिसेंट प्रमुख ने कहा कि अभी हम हेलीकॉप्टर से लगभग दो किलोमीटर की दूरी पर हैं। हेलीकॉप्टर के पास पहुंचकर अधिक जानकारी दी जा सकेगी।

हादसे वाली जगह का सामने आया वीडियो

फार्स न्यूज ने हेलीकॉप्टर हादसे वाली जगह का एक ड्रोन फुटेज जारी किया है, जिसमें देखा जा सकता है कि हेलीकॉप्टर तबाह हो गया है। वीडियो में हेलीकॉप्टर का मलबा एक पहाड़ी पर बिखरा दिखाई दे रहा है। रेस्क्यू टीमें हादसे वाली जगह पर पहुंचने की कोशिश कर रही हैं। ईरानी रेड क्रिसेंट सोसायटी के प्रमुख ने बताया कि राष्ट्रपति के दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर में सवार यात्रियों के जिंदा बचे होने को कोई संकेत नहीं था।

तस्नीम न्यूज ने बताया कि रईसी को ले जा रहे हेलीकॉप्टर का मलबा खोयलर से केलम जाने वाले मार्ग के पास मिला है। इसके पहले दुर्घटना स्थल को चिह्नित किए जाने के बाद बचाव दल की टीमें वहां गई थीं, लेकिन उन्हें हेलीकॉप्टर का कोई संकेत नहीं मिला। दिन के उजाले के बाद अभियान तेज हुआ और बचाव दल ने एक पहाड़ी पर हेलीकॉप्टर के ब्लेड और पंखे देखे। ईरानी रेड क्रिसेंट सोसायटी के प्रमुख ने बताया था कि हेलीकॉप्टर पूरी तरह तबाह हो चुका है। केबिन काफी क्षतिग्रस्त और जल गया है। उन्होंने कहा कि अब तक साइट पर किसी के जीवित बचे होने के कोई संकेत नहीं हैं।