Jaivardhan Singh Active : सिंधिया की वापसी पर जयवर्धन सिंह का जवाब इशारा करने वाला! 

उन्होंने कहा 'हमें जनबल की सरकार बनाएंगे, जिन्होंने सौदा करके सरकार बनाई, उन्हें सबक सिखाना! 

596

Jaivardhan Singh Active : सिंधिया की वापसी पर जयवर्धन सिंह का जवाब इशारा करने वाला! 

Shivpuri : विधायक, पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के बेटे जयवर्धन सिंह दिनों ग्वालियर-चंबल इलाके में सक्रीय हैं। वे ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव को कम करने के अभियान पर पार्टी की तरफ से तैनात किए गए हैं। शिवपुरी में उन्होंने पत्रकारों के सवालों के जवाब दिए। जब से ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामा है, उसके बाद से ही पूर्व मुख्यमंत्री के पुत्र जयवर्धन सिंह शिवपुरी में खासे सक्रिय दिखाई दे रहे हैं। वे कार्यकर्ताओं और नेताओं के बुलावे पर यहां हर कार्यक्रम में आ रहे हैं और सभाएं ले रहे हैं।

ज्योतिरादित्य सिंधिया की कांग्रेस में वापसी पर जयवर्धन सिंह ने कहा कि इस बात का जवाब सिंधिया से ही लें। पिछले दिनों संसद में सोनिया गांधी के साथ ज्योतिरादित्य सिंधिया बैठे थे, कारण उनसे ये सवाल पूछा गया। आने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की तैयारियों को लेकर पूछ गए सवाल को लेकर जयवर्धन सिंह ने कहा कि हम शिवपुरी जिले की पांचो विधानसभा सीटों पर जीत हासिल करेंगे। हमें जनबल की सरकार बनानी है, जिन्होंने सौदा करके सरकार बनाई थी उन्हें सबक सिखाना है।

IMG 20230924 WA0038

पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह ने कहा कि इस बार पूरी मेहनत से सरकार बनाएंगे और मुख्यमंत्री कमलनाथ जी होंगे। जयवर्धन सिंह शिवपुरी में पोहरी से कांग्रेस के सम्भावित प्रत्याशी कैलाश कुशवाह की माता के निधन के बाद शोक संवेदना व्यक्त करने आए थे। जब मीडिया ने पूछा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में क्या उनके द्वारा ही टिकट बांटे जाएंगे। इस सवाल का जवाब देते हुए जयवर्धन सिंह ने कहा कि वह कांग्रेस के एक कार्यकर्ता हैं भी टिकट नहीं बाटेंगे। टिकट मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ही बांटेगे।

महिला आरक्षण राजीव गांधी की सोच 

जयवर्धन सिंह ने कहा महिला आरक्षण की शुरुआत कांग्रेस ने की थी। यह सोच स्व. राजीव गांधी की थी, जिन्होंने देश को पंचायती राज दिया, हमें खुशी है कि आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भी इसे साकार किया है, लेकिन अभी इसे वापस तीन साल को टांग दिया है, राहुल गांधी और हम सभी लोग भी मांग कर रहे है की इसे तत्काल लागू किया जाए, हमें उम्मीद है कि इसे तत्काल लागू किया जाएगा।