Journalist Commits Suicide : फंदे पर लटककर पत्रकार ने आत्महत्या की, प्रेस कार्ड मिला

1888

 

Indore : यहां एक पत्रकार गणेश तिवारी ने कमरे में फंदे पर लटककर आत्महत्या कर ली है। उसके कमरे से एक चैनल का प्रेस कार्ड मिला है। सतना का रहने वाला यह पत्रकार इंदौर में अकेला रहता था और बताया गया कि यूट्यूब चैनल के लिए काम करता था। वह कल ही सतना से वापस आया था। जब घर वालों ने फोन लगाया तो उसने नहीं उठाया। इस पर परिवार वालों ने परिचितों को सूचना दी। जब पड़ोसियों ने फोन लगाया और आवाज दी, तो उसने दरवाजा नहीं खोला। जब वो बाहर नहीं आया तो पुलिस को बुलाया गया। दरवाजा तोड़कर अंदर घुसी तो वह फंदे पर लटका मिला।

गणेश तिवारी इंदौर में अकेला रहता था। जबकि, उसका परिवार सतना में है। जब उसने पड़ौसियों के खटखटाने पर भी दरवाजा नहीं खोला तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस को गणेश फंदे से लटका हुआ मिला। कमरे से पुलिस को कैमरा और कुछ सामान के साथ प्रेस कार्ड भी मिला। कोई सुसाइड नोट मिलने की जानकारी पुलिस ने नहीं दी। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए एमवाय भिजवाया है। परिवार को सूचना दे दी गई है। उनके आने के बाद ही  खुलासा होगा।  ही

 

गिरफ्तार भी हुआ

पिछले साल अक्टूबर में लसूड़िया पुलिस ने एक ढाबा संचालक की शिकायत पर चार कथित नकली पत्रकारों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है। बताया गया कि इनमें एक गणेश तिवारी भी था। इन चारो कथित फर्जी पत्रकारों ने खबर छापकर ढाबा तुड़वाने के नाम पर पैसे मांगे थे। ढाबा संचालक ने पुलिस में शिकायत की थी, जिसके बाद पत्रकार गणेश तिवारी को गिरफ्तार किया गया था।

लसूड़िया पुलिस में ढाबा संचालक ने शिकायत दर्ज करवाई थी कि चार पत्रकार ढाबे पर आकर खबर छापने की नाम की धमकी देने लगे और 10 हजार रुपए की मांग की। इस दौरान ढाबा संचालक ने 3 हजार रुपए नकद और 2 दो हजार रुपये पेटीएम के माध्यम से दिए थे। इसके बाद भी फर्जी पत्रकार ढाबा संचालक को ब्लैकमेल कर रहे थे।