इस साल के अंत तक चलती रहेगी डायल 100 में खटारा गाड़ी,नंवबर तक पुरानी कंपनी ही करेगी काम

114

इस साल के अंत तक चलती रहेगी डायल 100 में खटारा गाड़ी,नंवबर तक पुरानी कंपनी ही करेगी काम

भोपाल:पीड़ितों को तत्काल मदद करने वाली डायल 100 को इस साल भी पुरानी और खटारा गाड़ियों से ही काम चलाना होगा। कंपनी नंवबर तक काम करेगी। वहीं अब नई कंपनी को इसका काम काम सौंपने के लिए पूरी प्रक्रिया लोकसभा चुनाव की आचार संहिता हटने के बाद शुरू होने के आसार हैं। हालांकि यह पूरी प्रक्रिया काफी लंबी और जटिल होती जा रही है।

अभी काम कर रही बीवीजी कंपनी का कार्यकाल 2020 में ही पूरा हो चुका है, पर नई कंपनी नहीं आने के कारण चार वर्ष से छह-छह माह के लिए उसका कार्यकाल बढ़ाया जाता रहा है। इस बीच कंपनी की दो सौ से ज्यादा वाहन कंडम हो चुके हैं, जो सड़क पर उतरने के लायक भी नहीं बचे हैं। इसके चलते कम गाड़ियों से ही अब डायल 100 की सुविधा लोगों को दी जा रही है। इस कंपनी का अब नवम्बर तक का कार्यकाल बढ़ा दिया गया है। यानि इस साल के अंत तक यही कंपनी डायल 100 की व्यवस्था चलाएगी। इसके बाद ही नई कंपनी के आने के आसार हैं। इस बीच डायल 100 मुख्यालय ने नए टेंडर करवाने का प्रस्ताव शासन को भेजा था, लेकिन अदालत में मामला चल गया था। अदालत से निर्णय होने के बाद, टेंडर की स्वीकृति को लेकर शासन के पास वापस भेजा गया, जहां से मंत्रिपरिषद की बैठक ने नए सिरे से पूरी प्रक्रिया करने का कह कर प्रस्ताव पर चर्चा नहीं की।

*अब जून में हो सकती है टेंडर की प्रक्रिया*

अब नए सिरे से पूरा प्रस्ताव बनाकर शासन को डायल 100 ने भेजा है। लोकसभा चुनाव की आचार संहिता हटते ही इस पर निर्णय होने की उम्मीद है। ऐसे में यहां के अफसरों को उम्मीद है कि जून में प्रस्ताव को मंजूरी मिल जाएगी और उसके बाद टेंडर की प्रक्रिया नए सिरे से होगी। इस प्रक्रिया में 6 महीने अभी लग सकते हैं। इसके चलते नवम्बर तक अभी बीवीजी कंपनी को ही डायल 100 का संचालन करने की अनुमति दी गई है।