MDH चेयरमैन महाशय राजीव गुलाटी ने मसालों में ETO की कथित मौजूदगी का किया खंडन       

297

MDH चेयरमैन महाशय राजीव गुलाटी ने मसालों में ETO की कथित मौजूदगी का किया खंडन   

   

गोपेन्द्र नाथ भट्ट की रिपोर्ट 

नई दिल्ली। सिंगापुर एवं हांगकांग आदि विदेशी बाजारों में एमडीएच के तीन उत्पादों के बारे में फैलाई जा रही भ्रांतियों तथा उन पर लगाए गए आरोपों का खंडन करते हुए MDH के चेयरमैन महाशय राजीव गुलाटी ने स्पष्ट रूप से कहा कि ये सभी दावे झूठे हैं और इनका कोई ठोस सबूत नहीं है। इसके अतिरिक्त, हम यह दावा करना चाहेंगे कि एमडीएच को सिंगापुर या हांगकांग के नियामक एजेन्सियों की तरफ से भी इस बारे में कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है।

उन्होंने बताया कि स्पाइस बोर्ड ऑफ इंडिया और एफएसएसएआई जैसी नोडल नियामक एजेन्सी को भी इस मामले के संबंध में हांगकांग या सिंगापुर के अधिकारियों की तरफ से कोई जानकारी या परीक्षण रिपोर्ट नहीं भेजी गई है। यह इस तथ्य की पुष्टि करता है कि MDH के खिलाफ लगाए गए आरोप निराधार तथा तथ्यों से परे हैं और इस बारे में कोई भी ठोस सबूत मौजूद नहीं है।

एमडीएच ने अपने खरीदारों और उपभोक्ताओं को आश्वस्त करने की दृष्टि से कहा कि MDH अपने मसालों के भंडारण, प्रसंस्करण या पैकिंग के किसी भी चरण में एथिलीन ऑक्साइड (ईटीओ) का उपयोग नहीं करते हैं। उच्च गुणवत्ता वाले उत्पाद प्रदान करने की हमारी प्रभावशाली 105 साल पुरानी विरासत अपना विश्वास बनाए रखने में हमारे समर्पण की पुष्टि करती है।

गुलाटी के अनुसार गुणवत्ता और सुरक्षा के प्रति एमडीएच की प्रतिबद्धता कम्पनी के दिवंगत संस्थापक अध्यक्ष महाशय धर्मपाल गुलाटी द्वारा निर्धारित मानकों को बनाए रखने के प्रति हमारे समर्पण में झलकती है, जिनकी विरासत को उनके बेटे MDH ग्रुप के अध्यक्ष महाशय राजीव गुलाटी आगे बढ़ा रहे हैं। उनका सिद्धांत केवल उत्पादों को बढ़ावा देना और बेचना नहीं है, बल्कि अपने पिता की 105 साल पुरानी विश्वसनीयता को बनाये रखना भी है। वे स्वयं भी इन उत्पादों का उपभोग करते हैं, जो कि कंपनी के सुरक्षित और स्वस्थ मसालों के उत्पादन के बारे में पूर्ण निष्ठा को दर्शाता है।

महाशय धर्मपाल गुलाटी 98 साल की उम्र तक उन्हीं मसालों का सेवन करते रहे जिनका उन्होंने उत्पादन किया और बाजारों में उतारे।

भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण पुरस्कृत महाशय जी के प्रयासों की मान्यता बाजार में सुरक्षित और स्वस्थ उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए एमडीएच की प्रतिबद्धता का प्रमाण है। हम अपने उपभोक्ताओं को आश्वस्त करना चाहते हैं कि एमडीएच घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वास्थ्य और सुरक्षा मानकों का पालन करता है, MDH अनुपालन और उपभोक्ता सुरक्षा के प्रति अपने समर्पण की पुष्टि करता है।

राजीव गुलाटी ने कहा कि एमडीएच की टैगलाइन, ”असली मसाला सच, सच, एमडीएच एमडीएच और ”भारत के असली मसाले, अपने ग्राहकों को प्रामाणिक, उच्च गुणवत्ता वाले मसाले प्रदान करने के लिए हमारी वास्तविक प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं। विश्वसनीयता और उत्कृष्टता के हमारे ट्रैक रिकॉर्ड के साथ आश्वासन का यह संदेश, हमारे मूल्यवान ग्राहकों के मन में दृढ़ता से गूंजने की संभावना है, जिससे एमडीएच उत्पादों में उनका विश्वास मजबूत होगा।