Mosquitoes Do not Die From Firecrackers : पटाखों के धुएं से मच्छर नहीं मरे, ये उम्मीद टूटी!

दो दिन में डेंगू के 10 नए मरीज मिले, मरीजों की संख्या 425 हुई!

288

Mosquitoes Do not Die From Firecrackers : पटाखों के धुएं से मच्छर नहीं मरे, ये उम्मीद टूटी!

Indore : डेंगू के लगातार बढ़ते मामलों को देखकर स्वास्थ्य अधिकारियों की एक और उम्मीद भी टूट। वे दिवाली पर पटाखों के धुएं से मच्छरों के खत्म होने की आस लगाकर बैठे थे, पर ऐसा नहीं हुआ। दो दिनों में 10 और नमूनों में इस घातक बीमारी की पुष्टि हुई। इसके साथ ही अभी तक डेंगू के कुल मामलों की संख्या 425 हो गई। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का दावा है रविवार को कोई नया मामला नहीं मिला।

जबकि, जानकारी के अनुसार रविवार को डेंगू के 3 नए मरीज मिले। इससे पहले शनिवार को 7 मरीज मिले थे। इस बार अब तक 425 मरीज मिल चुके हैं। जिला मलेरिया अधिकारी डॉ दौलत पटेल के मुताबिक जिन क्षेत्रों में डेंगू के नए मरीज मिल रहे हैं वहां लार्वा के सैंपल लेने के साथ छिड़काव किया जा रहा है। दूसरी ओर ठंड के असरदार नहीं होने से अभी सामान्य सर्दी, खांसी व बुखार के मरीजों की संख्या सामान्य है।

जिला मलेरिया अधिकारी के अनुसार, मामलों की संख्या बढ़ रही है और लोगों को बीमारी से बचाव के लिए अतिरिक्त सतर्क रहने और मच्छर निरोधकों का उपयोग करने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि विजय नगर, चंदन नगर, भवरकुआं और खंडवा रोड क्षेत्र सहित शहर के लगभग सभी क्षेत्रों में मामले पाए गए। शहर में 8 सक्रिय मामले हैं, जिनमें से केवल एक जोड़े का अस्पतालों में इलाज चल रहा है, जबकि अन्य घर पर इलाज करा रहे हैं।

 

65.1 प्रतिशत मरीज पुरुष

स्वास्थ्य विभाग के रिकॉर्ड के अनुसार, कुल 425 मामलों में से 65.1% मरीज पुरुष (278) हैं, जबकि 34% महिलाएं (147) हैं। अब तक 40 बच्चे भी इस जानलेवा बीमारी की चपेट में आए हैं। डॉ दौलत पटेल ने कहा कि डेंगू के मामलों की संख्या लगातार बढ़ रही है, उनका कहना है कि अभी तक 1 लाख से अधिक घरों में सर्वेक्षण किया गया। जिनमें से 2000 से अधिक स्थानों पर लार्वा पाए गए। लार्वा को खत्म करने के साथ, हमने लोगों को सख्त स्वच्छता बनाए रखने और कंटेनरों या अन्य घरों में पानी जमा न करने की चेतावनी भी दी।