MP: गणेश प्रतिमा विसर्जन में हादसे, 6 की मौत

156

गणेश विसर्जन के समय होने वाली असावधानी हमेशा हादसे का कारण बनती है। इसके बाद भी लोग सजग नहीं होते। मध्यप्रदेश में गणेश विसर्जन के दौरान तालाब में डूबने से अब तक 6 बच्चों की मौत होने की जानकारी मिली है।
इसमें से मेहगांव कस्बे में 4 बच्चों की तालाब में डूबने से मौत होने की खबर आ रही है। गोताखोरों की मदद से चारों बच्चों के शवों को पानी के अंदर से निकाल लिया गया। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है।
भिंड जिले में मेहगांव कस्बे में वनखंडेश्वर महादेव मंदिर के पास प्राचीन तालाब में रविवार को गणेश विसर्जन का आयोजन चल रहा था। इस दौरान क्षेत्रीय लोगों की भीड़ जमा थी। गणेश विसर्जन को लेकर कुछ बच्चे भी शामिल थे। वे गणेश प्रतिमा का विसर्जन करते समय गहरे पानी में चले गए। इस वजह से चारों बालक एक के बाद एक डूबते चले गए। यह दृश्य को देख क्षेत्रीय गोताखोर पानी में उतरे और वे बच्चों को तालाब के अंदर से लेकर आए। इसके बाद जब इन बच्चों को हॉस्पिटल ले जाया गया तो डॉक्टरों ने चारों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव के पोस्टमार्टम करवाए।
देखा गया है कि हर जिले का प्रशासन ऐसे आयोजनों के दौरान व्यवस्था और सुरक्षा के दावे करता है, इसके बावजूद होता कुछ नहीं है। गणेश विसर्जन को लेकर पुलिस विभाग और जिला प्रशासन के दावे खोखले साबित हुए। मेहगांव कस्बे के वनखंडेश्वर महादेव के तालाब पर हुई घटना में यह देखने को मिला। यहां सुरक्षा की नजर से लाइफ जैकेट, एनडीआरएफ टीम, गोताखोर तैनात नहीं थे। प्रशासन का दल चुस्त दुरुस्त होता तो इस हादसे को रोका जा सकता था।
छिंदवाड़ा में भी दो युवकों के डूबने की जानकारी है। रविवार को दो अलग-अलग घटनाओं में दो युवक डूब गए। अंबाडा में बंद खदान में गणेश प्रतिमा विसर्जन करने गया एक युवक डूब गया। वहीं न्यूटन के स्टाफ डेम नहाने गए दोस्तो में से एक युवक की डूब गया। घटनास्थल पर पुलिस युवक की तलाश में जुटी हुई है। फिलहाल अभी तक किसी भी युवक का शव मिला है। कुल 6 लोगों की डूबने से मौत हुई।