CM Helpline में लापरवाही पड़ी भारी,19 अधिकारियों को चेतावनी और 2 को मिले नोटिस 

जानिए इन अधिकारियों के नाम

842
CM हेल्पलाइन की शिकायतों के निराकरण में रतलाम जिला टॉप टेन में पंहुचा

CM Helpline में लापरवाही पड़ी भारी,19 अधिकारियों को चेतावनी और 2 को मिले नोटिस 

ग्वालियर: सीएम हैल्पलाइन की शिकायतों के प्रति बरती जा रही लापरवाही 21 अधिकारियों को भारी पड़ी है। कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने इनमें से 19 अधिकारियों को लिखित में पत्र जारी कर चेतावनी देकर अप्रसन्नता जाहिर की है। साथ ही दो अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। जिन अधिकारियों के खिलाफ यह कार्रवाई की गई है। उनके द्वारा एल-1 स्तर पर शिकायतों को अटेण्ड नहीं किया गया, जिससे शिकायतों के निराकरण में अनावश्यक देरी हुई है।
कलेक्ट्रेट की लोक सेवा प्रबंधन शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिन अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं उनमें प्रभारी सहायक यंत्री नगरीय विकास एवं आवास श्री संदीप श्रीवास्तव व श्री हेमंत शर्मा, तहसीलदार श्री सुरेश यादव, संपदा अधिकारी जीडीए श्री उमेशचंद कौरव, जोनल ऑफीसर नगर निगम श्री अनिल श्रीवास्तव, भवन अधिकारी नगर निगम श्री वीरेन्द्र शाक्य, सहायक स्वास्थ्य अधिकारी नगर निगम श्री अशोक खरे, कार्यपालन यंत्री पर्यावरण श्री आर के रोहितास, संपदा अधिकारी नगरीय विकास एवं आवास श्री कौशलेन्द्र चतुर्वेदी, जोनल ऑफीसर नगर निगम श्री रवि गोडिया, तहसीलदार श्री रामप्रसाद बरेलिया, उप प्रबंधक ऊर्जा श्री एम सी गुप्ता, असिस्टेंट रजिस्ट्रार उद्योग श्री एम जे कुर्रेशी, सहायक प्रबंधक ऊर्जा डबरा श्री एस के शुक्ला, संपदा अधिकारी साडा श्री नवल सिंह राजपूत, सीडीपीओ डबरा श्रीमती बबीता धाकड़, प्राचार्य पॉलीटेक्निक श्री शशि विकसित, मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री प्रदीप भदौरिया एवं एपीटीओ नगरीय निकाय श्री शैलेन्द्र चौहान शामिल हैं।
इनके अलावा विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डबरा डॉ. विजय पाठक और विकासखंड चिकित्सा अधिकारी भितरवार डॉ. अशोक खरे को शिकायत अटेण्ड न करने पर कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।