विद्युत वितरण कम्पनी की लापरवाही – करंट लगने से हुई किसान की मौत

शव सड़क पर रख किया चक्काजाम मामले में मानव अधिकार आयोग ने लिया संज्ञान

505

विद्युत वितरण कम्पनी की लापरवाही – करंट लगने से हुई किसान की मौत

मंदसौर से डॉ घनश्याम बटवाल की रिपोर्ट
मंदसौर । जिले की मल्हारगढ़ तहसील के ग्राम कित्तूखेड़ी में गुरुवार को करंट लगने से 32वर्षीय युवा की दर्दनाक मृत्यु होगई । खेत मे विद्युत पोल के तार खुले रूप से पड़े थे और सिंचाई के लिए गये किसान रामसिंह की मौत होगई ।
विद्युत मंडल की लापरवाही से किसानों और नागरिकों में रोष व्याप्त होगया । इसके पूर्व भी ऐसी दुर्घटना हुई परन्तु विद्युत मंडल2कम्पनी द्वारा सुरक्षा नहीं बरती जारही ।

किसानों एवं नागरिकों ने झारड़ा बस स्टैंड सड़क मार्ग पर चार पाई पर मृतक का शव रखकर चक्काजाम कर दिया । राजस्व अधिकारी एवं पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे ।
मामले में नियमानुसार सहायता राशि का आश्वासन दिया ।

कांग्रेस नेता ने सहायता राशि 4 लाख रुपये नही, 25 लाख मुआवजा देने की मांग की । साथ ही परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नोकरी देवें । विधुत वितरण कम्पनी की लापरवाही का खामियाजा उपभोक्ता मौत के रूप में भुगत रहे है मल्हारगढ़ विधानसभा से कांग्रेस नेता परशुराम सिसौदिया ने कहा कि विधुत वितरण कम्पनी के बड़े अधिकारियों की लापरवाही व शिकायतों की अनदेखी के कारण विधुत से कई हादसे हुवे व कई लोगो की मोते भी होगई।

गुरुवार को मल्हारगढ़ क्षेत्र के ग्राम कित्तूखेड़ी के युवक रामसिंह 32 वर्ष पिता बापू सिंह सौंधिया की खेत पोल के टूटे तार में करंट लगने से मृत्यु होगई कुछ दिनों पहले ग्राम बादरी के लाइनमैन की भी विधुत सुधार करते समय पोल टूटने से घटना स्थल पर ही उनकी मृत्यु होगई थी।

WhatsApp Image 2023 06 02 at 6.10.01 PM 1

भविष्य में ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नही हो इसके लिए ठोस व प्रभावी कदम भी उठाना चाहिए।

इस मामले की गंभीरता को देखते हुए मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने स्वतः संज्ञान लेते हुए विद्युत मंडल क्षेत्रीय कम्पनी पश्चिमी क्षेत्र अधीक्षण यंत्री मंदसौर से शीघ्र जांच कर एक माह में स्पष्ट जवाब तलब किया है ।

मानव अधिकार आयोग अध्यक्ष माननीय मनोहर ममतानी द्वारा शुक्रवार को यह प्रकरण ध्यान में लिया गया साथ ही मृतक किसान रामसिंह के वैध वारिसों को मुआवजा राशि दिये जाने के बारे में अवगत कराने के निर्देश दिये हैं ।