गज़ल गायक पद्मश्री Pankaj Udhas का निधन,म्यूजिक इंडस्ट्री में मातम

401

 गज़ल गायक पद्मश्री Pankaj Udhas का निधन,म्यूजिक इंडस्ट्री में  मातम

Pankaj Udhas: मशहूर गजल गायक पंकज उधास का निधन हो गया है. पंकज उदास के निधन के बारे में उनके परिवारवालों ने जानकारी दी है. 72 साल के पंकज उधास काफी समय से बीमार थे और उनका इलाज चल रहा था. लेकिन 26 फरवरी को उन्होंने अंतिम सांस ली और वह इस दुनिया को छोड़ गए. पंकज उधास को साल 2006 में पद्मश्री अवार्ड मिला था. उनके गाने और गजल हमेशा से मशहूर रहे हैं. उनकी सबसे मशहूर गाना, चिट्ठी आई है.. आई है… चिट्ठी आई है…

बताया जा रहा है कि पंकज उधास कैंडी अस्पताल में भर्ती थे. जहां 26 फरवरी को सुबह करीब 11 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली. काफी समय से उनकी तबीयत खराब थी. उनके निधन के बाद पूरे म्यूजिक इंडस्ट्री में मातम छा गया है. पंकज उधास के गजल युवाओं में भी काफी मशहूर थे.

नहीं रहे गजल गायक पंकज उधास, 72 साल की उम्र में हुआ निधन, बेटी ने दी जानकारी - pankaj udhas death legendary singer no more fans shocked entertainment industry sad news tmovh - AajTak

पंकज उधास एक मशहूर गजल गायक थे. उनका जन्म 17 मई 1951 को गुजरात के जेतपुर में हुआ था. उनका परिवार राजकोट के पास चरखाड़ी नाम के कस्बे के रहने वाले थे. उनके पिता केशुभाई उधास सरकारी कर्मचारी थे. बताया जाता है कि उनकी मां जीतूबेन उधास का गानों का बड़ा शौक था, इस वजह से पंकज उधास और उनके दो भाइयों का संगीत के प्रति लगाव रहा.

पंकज उधास ने अपने करियर की शुरुआत साल 1980 में की थी. जब उनका गजल एल्बम ‘आहट’ जारी किया गया था. इस गजल के बाद पंकज उधास पूरे देश में गजल संगीत का एक पर्याय बन गए. वहीं, फिल्मों में भी गजल को प्रस्तुत किया जाने लगा. जब संजय दत्त की फिल्म ‘नाम’ में उनकी लोकप्रिय गजल संगीत ‘चिट्ठी आई है.. आई है.. चिट्ठी आई है..’ गाया था. उस वक्त इस गाने ने सभी को रुला दिया था. यह गाना सभी की जुबान पर आज भी है .

OTT platform Disney+Hotstar:’Baipan Bhari Deva’ यह कथा पारिवारिक जीवन की एक तस्वीर है!