Ram Van Path Gaman: MP में राम वन पथ गमन के विकास की कार्य योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा- CM डॉ मोहन यादव 

307

Ram Van Path Gaman: MP में राम वन पथ गमन के विकास की कार्य योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा- CM डॉ मोहन यादव 

भोपाल: मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने मंत्रालय में हुई मंत्री परिषद की बैठक से पहले अपने संबोधन में चित्रकूट में कल 16 जनवरी को श्री रामचंद्र पथ गमन न्यास की पहली बैठक का उल्लेख करते हुए कहा कि राम वन पथ गमन के विकास की कार्य योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा । प्रथम चरण में पथ के अयोध्या से चित्रकूट तक के विकास के लिए मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश सरकारों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में गतिविधियां संचालित की जायेंगी । पांच विशेषज्ञों की समिति बनाकर कार्य आरंभ किया जाएगा, जो क्षेत्र चिह्नित है वहां पहले कार्य आरंभ होगा और चित्रकूट का विकास अयोध्या की तरह किया जायेगा।

अमरकंटक का विकास और मंदाकिनी नदी का संरक्षण भी समन्वित रूप से किया जाएगा। संबंधित एजेंसियों को आवश्यक दिशा निर्देश दे दिए गए हैं।

IMG 20240117 WA0055

मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में आ रहे शुभ अवसर के संदर्भ में मध्य प्रदेश में उत्सव और आयोजन के लिए विशेष कार्य योजना राज्य सरकार द्वारा बनाई गई है। जिसके अंतर्गत उज्जैन, रतलाम, देवास ,सीहोर, सलकनपुर, छिंदवाड़ा, अमरकंटक, जबलपुर आदि में गतिविधियों की योजना है। इसी क्रम में बाबा महाकाल मंदिर से 5 लाख लड्डू अयोध्या भेजे जा रहे हैं। प्रदेश में सभी स्थानों पर प्रभात फेरी, कलश यात्रा जैसे अलग-अलग आयोजन किए जा रहे हैं, जिसमे जन अभियान परिषद की महत्वपूर्ण भूमिका है। मुख्यमंत्री डॉ यादव ने कहा कि मंदिरों में 11 से 22 तक चलने वाले स्वच्छता अभियान में मंत्रीगण तथा अधिक से अधिक जनप्रतिनिधि भाग लें।

मंदिरों और नदियों में दीपदान प्रकाश व्यवस्था 22 जनवरी को की जाएगी, सभी शासकीय भवनों में 21 से 26 जनवरी तक प्रकाश व्यवस्था की जाएगी यह व्यवस्था सभी स्थानों पर होगी विशेष स्थानों जैसे चित्रकूट ओरछा आदि में संस्कृति विभाग के सहयोग विशेष आयोजन किए जाएंगे। मुख्यमंत्री डॉ यादव ने कहा कि वे 22 जनवरी को संभवत ओरछा में रहेंगे। अयोध्या में 22 जनवरी को अयोध्या में हो रहे कार्यक्रम का प्रसारण जन सामान्य को दिखाने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर led की व्यवस्था की जाए, इसके साथ ही रंगोली तथा अन्य अन्य सांस्कृतिक गतिविधियां भी आयोजित की जाए । प्रदेश वासियों को अयोध्या मंदिर दर्शन के लिए भी ले जाया जाएगा मंत्रीगण भी इन यात्राओं में साथ रहें । ग्राम पंचायत स्तर पर भी रामचरितमानस, रामायण पाठ, हनुमान चालीसा आदि का आयोजन किया जाए ,संपूर्ण आयोजन प्रभावी हो । प्रयास यह हो कि वर्ष भर प्रदेश में आयोजन हो तथा चित्रकूट से अयोध्या की यात्राएं भी की जाएं।