Sensational Triple Murder:उज्जैन में महिला और 2 बच्चों की हत्या कर खुद लगाई फाँसी,4 की मौत

474

Sensational Triple Murder:उज्जैन में महिला और 2 बच्चों की हत्या कर खुद लगाई फाँसी,4 की मौत

उज्जैन से मुकेश भीष्म की रिपोर्ट

 

उज्जैन: उज्जैन के जीवाजी गंज थाना क्षेत्र के जानकी नगर में सनसनीखेज तिहरा हत्या कांड के बाद आत्म हत्या का मामला सामने आया है। यहां एक मकान में एक व्यक्ति फांसी पर लटकता मिला है वही महिला और दो बच्चों की लाश जमीन पर मिली है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे है।जानकारी के अनुसार शव मनोज राठौर उसकी लिव-इन-पार्टनर ममता, ममता के बेटे लक्की और बेटी कनक के हैं। ममता के दोनों बच्चे उसके पहले पति के थे। मनोज ने पहली पत्नी को छोड़ दिया था। उसने ममता से दूसरी शादी नहीं की थी बल्कि दोनों पिछले पांच साल से लिव-इन में रह रहे थे।नृशंस हत्या और आत्महत्या का कारण संभवतः बच्चों को लेकर मनोज एवं ममता में विवाद और कर्ज हो सकता है।

 

पुलिस से मिली प्रारंभिक जानकारी के अनुसार मनोज राठौर गढ कालिका मंदिर क्षेत्र में फूल प्रसादी और खिलौने बेचने का काम करता था। यह जयसिंहपुरा क्षेत्र का मूल निवासी है और चार माह पहले जानकी नगर में परिवार के साथ किराये के मकान में रह रहा था।मकान मालिक आसाराम ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो कमरे के अंदर मनोज राठौर फांसी के फंदे पर लटका हुआ है। वहीं, पास में ही उसकी लिव-इन-पार्टनर ममता और ममता के दो बच्चों के शव पड़े हैं। ममता और दोनों बच्चों के मुंह से झाग निकल रहा है।पुलिस के अनुसार महिला और दोनों बच्चों के मुंह से झाग निकल रहा था। इसके बाद अनुमान लगाया जा रहा है कि संभवत: मनोज ने तीनों की हत्या की और उसके बाद फांसी लगाकर आत्महत्या की है।

 

ममता के रिश्तेदार ने बताया कि ममता मनोज राठौर के साथ पांच साल से रह रही थी। उसके दोनों बच्चे पहले पति से ही थे। पहले पति से विवाद के बाद से ममता अलग रह रही थी।

 

बताया गया है कि 15 साल पहले ममता की शादी नागदा में हुई थी। पुलिस की प्राथमिक जांच में पता चला है कि ममता का पति उसके साथ मारपीट करता था। इसलिए वो पति को छोड़कर उज्जैन आ गई थी।उसके बाद मनोज से दोस्ती होने के बाद पांच साल पहले साथ रहने का फैसला किया।मनोज की भी शादी हो चुकी थी, लेकिन मनोज ने पत्नी को छोड़ दिया। ममता के साथ लिव इन रिलेशन में रहने के कारण मनोज और ममता की परिवार वालों से बातचीत नहीं थी।

पुलिस पूरे मामले की तहकीकात कर रही है।