Special Campaign Against Adulterants: 2 संस्थान के लाइसेंस निरस्त-4 के विरुद्ध न्यायालय में प्रकरण दर्ज

मिलावटी दूध और दुग्ध उत्पादों के 103 नमूनों की रिपोर्ट जारी

392

Special Campaign Against Adulterants: 2 संस्थान के लाइसेंस निरस्त-4 के विरुद्ध न्यायालय में प्रकरण दर्ज

भोपाल :मध्य प्रदेश में 2 मार्च से खाद्य सुरक्षा प्रशासन द्वारा नकली-मिलावटी दूध और उससे बने उत्पादों की रोकथाम के लिये विशेष अभियान चलाया जा रहा है। अभियान में अब तक दूध और दूध से बने उत्पादों के 8083 नमूने लिए गए हैं। राज्य खाद्य प्रयोगशाला द्वारा 310 लीगल नमूनों में से 103 की रिपोर्ट जारी की गई है। इनमें 83 नमूने मानक, 17 अमानक, 02 मिथ्याछाप स्तर के पाये गये। भिण्ड जिले से प्राप्त दूध का एक नमूना जाँच में असुरक्षित पाया गया है।

आयुक्त खाद्य सुरक्षा प्रशासन डॉ. सुदाम खाड़े ने बताया कि विशेष अभियान में नकली-मिलावटी दूध और उससे बने उत्पादों का निर्माण, संग्रह और विक्रय करने वाले व्यक्तियों एवं संस्थानों के विरुद्ध दण्डात्मक कार्यवाही भी की जा रही है। नकली – मिलावटी दूध और उससे बने उत्पादों के निर्माण तथा विक्रय से जुड़े 2 संस्थान के लाइसेंस निरस्त किए गए और 4 संस्थान के विरुद्ध न्यायालय में प्रकरण दर्ज कराए गए हैं।

चलित खाद्य प्रयोगशाला और मैजिक बॉक्स से आमजन द्वारा दैनिक उपयोग में लिये जा रहे दूध एवं दुग्ध उत्पादों की मौके पर जाँच भी की जा रही है। साथ ही जिलों में संचालित दूध के कलेक्शन सेंटर, चिलिंग प्लांट, दूध का परिवहन करने वाले वाहन सहित मावा, पनीर, घी के खाद्य कारोबारियों के प्रतिष्ठानों की सघन जाँच भी जारी है।