जनजातीय गौरव सम्मान समारोह में शामिल हुए CM शिवराज, किया लोकार्पण

जनजातीय गौरव सम्मान समारोह में शामिल हुए CM शिवराज, किया लोकार्पण

मीडियावाला.इन।

उमरिया, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महामारी कोरोना का संकट जहां अभी तक टला नहीं है वहीं दूसरी तरफ प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा कई योजनाओं को लेकर कार्य जारी है इस बीच ही जिले के डगडउआ गांव में 'जनजातीय गौरव सम्मान समारोह' में सीएम शिवराज शामिल हुए तो वहीं भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा के चरणों में श्रद्धांजलि अर्पित की।

सम्मान समारोह के दौरान सीएम शिवराज ने लोकार्पण कर कही बात

इस संबंध में, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 'जनजातीय गौरव सम्मान समारोह' में शामिल होने के दौरान प्रतिमा स्थापना के लिए भूमि दान करने वाले श्री नत्थूलाल कोल को पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया। इस पावन अवसर पर अनेक विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया। वहीं संबोधन करते हुए कहा कि, मैंने एक अखबार में पढ़ा कि उमरिया ज़िले के किरनताल गाँव में 20 साल पहले कांग्रेस के शासनकाल में बैगा बन्धुओं के साथ छल-कपट कर तत्कालीन पटवारी ने फर्जी पट्टे वितरित किये थे। मेरा मन नहीं माना और मैं आ गया अपने भाइयों से मिलने! मैंने सभी गाँववासियों की समस्याएँ सुनी हैं, जनजातीय भाई-बहनों के साथ न्याय करना मेरा धर्म है और मेरी सरकार का कर्तव्य है! सभी बैगा बन्धुओं, जिनके साथ अन्याय हुआ है, उनको पट्टे वितरित किये जायेंगे। इस मामले की जाँच होगी और जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई करूंगा।

कांग्रेस की नीतियों को लेकर सीएम शिवराज ने कसा तंज

इस संबंध में आगे कहा कि, कांग्रेस के शासनकाल में कैसे काम किया जाता था, कितना भ्रष्टाचार व्याप्त था, ग्राम किरनताल के बैगाओं के साथ हुआ अन्याय इसका प्रतीक है! गरीबों को लूट लिया गया, फर्जी बही बना दी गई और उन्हें ज़मीन भी नहीं मिली, सभी के साथ न्याय तो होगा ही, साथ ही दोषियों के खिलाफ कार्रवाई भी होगी। वहीं कहा कि, मैं जनजाति भाई-बहनों का हक किसी को छीनने नहीं दूंगा। कुछ ऐसे मामले हैं, जिसमें दूसरे वर्ग के लोग जनजाति बेटी से विवाह और अपना नाम परिवर्तित कर पंचायत चुनाव लड़ संसाधनों पर कब्जा कर रहे हैं। ऐसे लोग बख्शे नहीं जायेंगे।

0 comments      

Add Comment