“कोरोना से निपटने के लिए राज्य में बेड की कोई कमी नहीं” बोले चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग

“कोरोना से निपटने के लिए राज्य में बेड की कोई कमी नहीं” बोले चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग

मीडियावाला.इन।

मध्य प्रदेश में लगातार संक्रमण लगातार (Corona Cases in Madhya Pradesh) बढ़ रहा है. जिसके चलते शनिवार को सीएम शिवराज सिंह (CM Shivraj Singh Chauhan) ने क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक ली. जिसमें कहा गया कि सरकार पूरी कटिबद्धता के साथ हर चुनौती का सामना करने को तैयार है. बैठक में कहा गया कि जिन जिलों में पॉजिटिव केस की संख्या ज्यादा है वहां का आंकलन कर क्राइसिस मैनजमेंट कमेटी समस्या के हल पर विचार करेगी.

वहीं चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग(Health Minister Vishwas Sarang) ने बताया कि सीएम ने जो मंत्री भोपाल में थे उनकी आपात बैठक बुलाई थी. इस भीषण संकट से निपटने के लिए अभी मंत्रियों को कुछ जिले बांटे गए है, जो केवल कोरोना संकट के लिए है. मंत्री ने कहा कि राज्य में बेड की कमी नहीं हैं. सामान्य बेड, ऑक्सीजन सप्लाई वाले बेड सभी कुछ समुचित हैं. सीएम ने कहा है कि हर जिले में कोविड केयर सेंटर (CCC) की स्थापना की जाए. उसके लिए अलग से बजट भी दिया है. जिला कलेक्टरों को कोरोना संकट से निपटने के लिए बजट की जरूरत हो, तो उसके लिए कुल 104 करोड़ रुपए आवंटित किए गए है.

कटनी में हालात खराब

प्रमुख सचिव मो. सुलेमान ने कहा कि राज्य में 32707 एक्टिव केस हैं. वहीं पॉजिटिविटी रेट 12.1 फीसदी हो गई है जो कि देश के औसत से भी ज्यादा है. प्रमुख सचिव ने कहा कि एक हफ्ते में 12 से 13 गुना केस बढ़ रहे है. इंदौर, भोपाल में हालात सबसे ज्यादा खराब है. वहीं कटनी में हर तीसरा व्यक्ति पॉजिटिव निकल रहा है. मो. सुलेमान ने कहा कि भोपाल इंदौर में 70 फीसदी ICU बेड इस्तेमाल हो रहे हैं. प्राइवेट संस्थानों का सपोर्ट भी मिल रहा है. उन्होंने 13,885 बेड कोविड के इलाज के लिए उपलब्ध कराए हैं.

0 comments      

Add Comment