बड़ी लापरवाही: कोरोना पॉजिटिव शासकीय चिकित्सक चला रहा था निजी क्लीनिक,एसडीएम ने दी दबिश, क्लिनिक किया सील

बड़ी लापरवाही: कोरोना पॉजिटिव शासकीय चिकित्सक चला रहा था निजी क्लीनिक,एसडीएम ने दी दबिश, क्लिनिक किया सील

मीडियावाला.इन।

बड़वानी से सचिन राठौर की रिपोर्ट

बड़ी लापरवाही कोरोना पॉजिटिव शासकीय चिकित्सक चला रहा था निजी क्लीनिक और अस्पताल में कर रहा था कोरोना पॉजिटिव का इलाज, एसडीएम ने दी दबिश, क्लिनिक किया सील, एसडीएम के अनुसार डॉक्टर के पास नहीं था अस्पताल चलाने का कोई भी दस्तावेज

बड़वानी- कोरोना पॉजिटिव शासकीय डॉक्टर मुकेश चौहान, जो कि शासकीय कोविड सेंटर आशा ग्राम पर पदस्थ है, पॉजिटिव आने के बाद छुट्टी लेकर निजी क्लीनिक और हॉस्पिटल पर मरीजो का इलाज कर रहा था। 
एसडीएम सहित पुलिस ने मौके पर पहुँच क्लीनिक व हॉस्पिटल को सील किया। सरकारी हॉस्पिटल में पदस्थ डॉक्टर 24 अप्रेल को कोरोना पॉजिटिव होने के बाद छुट्टी लेकर हॉस्पिटल और निजी क्लीनिक पर मरीजों का उपचार कर रहा थे।
 सूचना मिलने पर एसडीएम घनश्याम धनगर सहित पुलिस टीम डॉक्टर के क्लीनिक पर पहुंची और डॉक्टर को फटकार लगाते हुए क्लीनिक को सील कर दिया। साथ ही क्लीनिक में मौजूद दवाइयों को जप्त कर वहां जांच के लिए मरीजों के दस्तावेज भी जप्त किए। 
डॉक्टर के घर पर प्रशासन द्वारा कोरोना पॉजिटिव मरीजो के घर के बाहर लगाये जाना वाला स्टीकर भी चस्पा किया है, बाउजूद इसके डॉक्टर अपनी मनमानी करते हुए मरीजो का इलाज कर रहा था। इतना ही नहीं इस डॉक्टर द्वारा ओम साईं राम हॉस्पिटल और डे केयर सेंटर नामक अस्पताल संचालित किया जा रहा था जहां पर भी 8 मरीज भर्ती थे जिसमें से कुछ कोरोना पाजिटिव थे और कुछ सस्पेक्टेड थे। जिसके बाद एसडीएम जहां क्लीनिक को सील कर दिया है वहीं अस्पताल संबंधित दस्तावेज जब डॉक्टर से मांगे गए तो वह भी डॉक्टर द्वारा उपलब्ध नहीं कराये गये। फिलहाल क्लीनिक को सील किया गया है। बताया गया है कि विस्तृत जांच के बाद कल आगामी कार्रवाई की जाएगी।


देखिए वीडियो क्या कह रहे हैं- घनश्याम धनगर ( एसडीएम बड़वानी)

0 comments      

Add Comment