वेतन के लिए शिक्षकों ने घेरा BEO का घर,100 से अधिक शिक्षकों को नहीं मिला वेतन

727

शिवपुरी।पोहरी संकुल के बीईओ व बाबुओं की लापरवाही के कारण 100 से अधिक शिक्षकों को दो माह का पेंडिंग वेतन नहीं मिल पाया है। ऐसे में शिक्षकों की दीवाली काली हो गई है।
अधिकारियों की इस लापरवाही पर शनिवार को कुछ शिक्षकों ने शिक्षक नेताओं के साथ BEO मोतीलाल खंगार के घर पर डेरा डाल लिया और वहीं बैठकर वरिष्ठ अधिकारियों को भी इस लापरवाही की शिकायत दर्ज कराई।
बीईओ के घर पर शिक्षक नेताओं के घर का वीडियो वायरल होने के बाद विभाग में पोहरी के लापरवाह स्टाफ को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है।
बीईओ कार्यालय की इस लापरवाही से 105 शिक्षकों के घर दीवाली पर रोशन नहीं हो पाए हैं।

*क्यों नहीं मिला वेतन*
उक्त कर्मचारियों का एम्प्लॉय कोड न बन पाने के कारण फिक्ससेशन नहीं हो पाया था, परंतु एक माह पहले यह कोड भी बन चुका है, इसके बाबजूद भी बीईओ कार्यालय के अधिकारियों व बाबुओं की लापरवाही के कारण यह फिक्ससेशन नहीं हो पाया। यही कारण रहा कि शिक्षकों का वेतन नहीं मिल पाया।

वायरल वीडियो में एक दूसरे पर आरोप
पोहरी में दो बीईओ काम देख रहे हैं। प्रशासनिक काम जहां मोतीलाल खंगार देखते हैं, वहीं आहरण पावर पातीराम पर हैं। फिक्ससेशन का काम बाबू प्रदीप शर्मा को करना था। वायरल वीडियो में जहां बीईओ लापरवाही के लिए बाबू प्रदीप को दोषी ठहरा रहे हैं, वहीं बीईओ बाबू की लापरवाही बता रहे हैं। कुल मिला कर बीईओ और बाबू की लड़ाई में नुकसान शिक्षकों का हो रहा है।

प्रदीप ने घर ले जाकर रख लीं सेवा पुस्तिका
बीईओ मोतीलाल खंगार का कहना है कि बाबू प्रदीप का पोहरी से ट्रांसफर हो चुका है, परंतु उसने अब तक दूसरे बाबू को चार्ज नहीं दिया है। कई शिक्षकों की सेवा पुस्तिका अपने घर ले जाकर रख ली हैं। यही वजह है कि फिक्ससेशन नहीं हो पाया है। मैंने यह बात डीईओ साहब को भी बता दी है। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि बाबू पर एफआईआर दर्ज करा दो। हम जल्द से जल्द भुगतान करवाएंगे, इसके लिए दिन रात काम कर रहे हैं।

*देखिए वीडियो*