पंजाब के नए मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह रंधावा नहीं, चरणजीत सिंह चन्नी होंगे

95

चंडीगढ़: पंजाब के मुख्यमंत्री को लेकर बड़ा उलटफेर हुआ है। जहां एक और पहले सुखविंदर सिंह रंधावा का नाम तय लग रहा था वही विधायक दल की बैठक में अब चरणजीत सिंह चन्नी का नाम फाइनल हुआ है।

अब पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी होंगे। उन्हें कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना गया है।

यह जानकारी हरीश रावत ने ट्वीट कर दी। उन्होंने कहा, ‘मुझे यह घोषणा करते हुए अपार हर्ष हो रहा है कि श्री चरणजीत सिंह चन्नी को सर्वसम्मति से पंजाब कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना गया है।

ज्ञात रहे चरणजीत सिंह चन्नी भारत के पंजाब राज्य की चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस के विधायक हैं। इसी के साथ पंजाब को पहला दलित मुख्यमंत्री मिल गया है।

चरणजीत सिंह चन्नी 1966 में हुए राज्य के पुनर्गठन के बाद से पहले दलित सीएम होंगे। सुखजिंदर सिंह रंधावा, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी जैसे नेताओं के नाम सीएम की रेस में चल रहे थे, लेकिन चन्नी की दूर-दूर तक चर्चा नहीं थी।

ऐसे में उनको सीएम बनाया जाना कांग्रेस की ओर से सरप्राइज माना जा रहा है। वे कैप्टन अमरिंदर सिंह की जगह राज्य का नेतृत्व करेंगे, जिन्होंने शनिवार को ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

चन्नी पर मी टू का आरोप लग चुका है| एक महिला आई. ए. एस. अफसर को 2018 में एक गलत मेसेज को भेजने के लिए वे चर्चा में आये थे, हालाँकि यह मामला तब सुलझा लिया गया था|