Ujjain News: कलेक्टर ने EE का एक दिन और AE का सात दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए, जानिए वजह

722

Ujjain News: कलेक्टर ने EE का एक दिन और AE का सात दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए, जानिए वजह

उज्जैन से अजेंद्र त्रिवेदी की रिपोर्ट

उज्जैन: कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने आज तराना जनपद के तीन ग्रामों का दौरा कर जलजीवन मिशन के कार्यो का सघन निरीक्षण किया । उन्होंने लक्ष्मीपुरा व सामगी में जल जीवन मिशन के तहत संचालित पेयजल व्यवस्थाओं को देखा । ग्राम लक्ष्मीपुरा एवं ग्राम सामगी में ग्राम चौपाल लगाकर शासकीय योजना के क्रियान्वयन की पड़ताल की तथा ग्राम दूधली में तालाब निर्माण स्थल का निरीक्षण किया ।

कलेक्टर ने सामगी में गेहूं उपार्जन केंद्र में जाकर व्यवस्थाओं का जायजा लिया ।कलेक्टर ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिया है कि वे प्रत्येक ग्राम में जल जीवन मिशन के तहत बनने वाली पेयजल योजना के क्रियान्वयन के लिए ग्रामीण जल समितियों को सशक्त करें तथा ग्राम चौपाल लगाकर जल जीवन मिशन के सदस्यों का परिचय ग्रामीणों से करवाएं । कलेक्टर ने ग्राम लक्ष्मीपुरा में जल जीवन मिशन के तहत गठित ग्राम पेयजल समिति का गठन एवं संचालन ठीक से नहीं करने पर कार्यपालन यंत्री का एक दिन का व सहायक यंत्री का सात दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर ने लक्ष्मीपुरा की अंबेडकर कॉलोनी के रहवासियों के आग्रह पर उनके साथ पैदल चलकर बस्ती का निरीक्षण किया तथा ग्रामीणों की प्रधानमंत्री आवास में पात्र अपात्र को लेकर शिकायतों का मौके पर निराकरण करते हुए ग्राम सचिव को निर्देश दिए हैं कि वे ग्राम सभा आयोजित कर लोगों को बताएं कि किन लोगों को पात्रता है और किनको नही है । निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुश्री अंकिता धाकरे , एसडीएम श्रीमती एकता जायसवाल एवं जिला व विकास खंड स्तरीय अधिकारी गण मौजूद थे।

पेयजल शुल्क का भुगतान समय पर करे
कलेक्टर ने सबसे पहले ग्राम लक्ष्मीपुरा की अंबेडकर बस्ती में निर्मित की गई पेयजल टंकी का निरीक्षण किया। उन्होंने ग्रामीणों से पूछा कि पेयजल प्रदान किया जा रहा है या नहीं । ग्रामीण महिला ने बताया मोटर खराब होने से पेयजल वितरण में बाधा आती है ।कलेक्टर ने सभी उपभोक्ताओं से कहा कि वे नियमानुसार प्रतिमाह पेयजल के लिए निर्धारित शुल्क का भुगतान करें । उन्होंने कहा यह योजनाओं उनकी स्वयं की है इसलिए इसका संचालन भी ग्रामीण जल समिति को ही करना होगा। कलेक्टर ने लक्ष्मीपुरा मोड़ पर हेड पंप के नजदीक बनाए गए सोक पिट का निरीक्षण किया कलेक्टर ने निर्देश दिए हैं कि सभी हैंडपंपों के पास इसी तरह के सोक पिट बनाए जाएं व जलाभिषेक अभियान के तहत जल संरक्षण की संरचनाओं का निर्माण किया जाए।

इंजीनयर अंतर्विभागीय समन्वय करें
कलेक्टर ने लक्ष्मीपुरा में धरोहर योजना के तहत तालाब गहरीकरण कार्य का निरीक्षण किया उन्होंने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के सहायक यंत्री को निर्देश दिए कि वे जल संसाधन विभाग के अधिकारियों के साथ मिलकर तालाब के गहरीकरण एवं जल भरण क्षमता में वृद्धि के कार्य करें ।जिससे तालाब में मार्च माह के अंत तक पानी उपलब्ध रहें

लक्ष्मीपुरा एवम सामगी में ग्राम चौपाल लगाई
कलेक्टर ने ग्राम लक्ष्मीपुरा के मंदिर में में ग्राम चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं को सुना। यहां पर जल समिति के एक सदस्य द्वारा बताया गया कि वह इस समिति के सदस्य हैं यह जानकारी आज ही उन्हें मिली है ।कलेक्टर ने इस पर नाराज होकर कार्यपालन यंत्री को जल समितियों के गठन एवं उनके कार्य करने के तौर-तरीके में ग्रामीणों को व्यापक रूप से शामिल करने के निर्देश दिए । कलेक्टर ने ग्रामीणों द्वारा बताई गई समस्याओं का मौके पर निराकरण करते हुए विद्युत विभाग के सहायक यंत्री को गांव में ही कैंप कर खंभों एवं ट्रांसफार्मर से संबंधी शिकायतों को दूर करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने ग्राम सामगी में जाकर पेयजल टंकी सम्पवेल आदि का निरीक्षण किया ।चौपाल में बैठकर ग्रामीणों से चर्चा की तथा मौके पर ही उनकी समस्याओं को निराकृत करते हुए प्रधानमंत्री आवास की पात्रता सूची का प्रकाशन करने एवं अन्य आर्थिक सहायता के प्रकरणों का निराकरण करने के निर्देश दिए ।

उपार्जन केंद्र का निरीक्षण किया तौल कांटा बढ़ाने के निर्देश कलेक्टर ने ग्राम सामगी में स्व सहायता समूह द्वारा संचालित गेहूं खरीदी केंद्र का निरीक्षण किया व ग्रामीणों से चर्चा की । उन्होंने केंद्र संचालक को निर्देश दिए हैं कि वे चार के बजाय अब पांच कांटों से तोल शुरू करें जिससे लोगों को अधिक समय इंतजार में करना पड़े । कलेक्टर द्वारा उपार्जन केंद्र पर की जा रही व्यवस्थाओं पर संतोष व्यक्त किया गया।