T20 की कप्तानी विराट ने छोड़ी, वनडे और टेस्ट संभालेंगे

566
T20

इंडियन क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने T20 फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ने की घोषणा की। लेकिन, वे वर्ल्ड कप में T20 की कमान संभालेंगे। उसके बाद वे सिर्फ टेस्ट और वनडे प्रारूप के कप्तान रहेंगे। कोहली के बाद रोहित शर्मा को कप्तानी देने की बात हो रही है। रोहित का आईपीएल का प्रदर्शन बतौर कप्तान शानदार है। उनकी कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने पांच बार आईपीएल का खिताब जीता है। हर बार उनके चैंपियन बनते ही उन्हें भारत का T20 कप्तान बनाए जाने की बात होती है। कोहली ने 2017 में महेंद्र सिंह धोनी के बाद भारतीय T20 टीम की कप्तानी संभाली थी।
विराट ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी। उन्होंने लिखा है कि मैं भारत का प्रतिनिधित्व करने के साथ भाग्यशाली रहा कि मैंने इस टीम की कप्तानी भी की। मैं उन सभी लोगों को शुक्रिया कहना चाहता हूं जिन्होंने इस सफर में मेरा साथ दिया। मैं आप लोगों के बिना यह नहीं कर सकता था। सभी खिलाड़ियों, सपोर्ट स्टाफ, सिलेक्शन कमेटी, मेरे कोच और हर वह भारतीय जिसने हमारे जीतने की कामना की। पिछले 8-9 सालों से मेरे पर काफी वर्कलोड है, मैं 5-6 सालों से तीनों फॉर्मेट की कप्तानी कर रहा हूं। इसी वर्कलोड पर मैंने ध्यान दिया है। मुझे लगता है कि मुझे खुद को थोड़ा स्पेस देने की जरूरत है ताकि मैं टेस्ट और वनडे क्रिकेट के लिए खुद को तैयार कर सकूं। मैंने T20 कप्तान के रूप में टीम को सब कुछ दिया। अब मैं बतौर बल्लेबाज इस फॉर्मेट में टीम को सब कुछ देना चाहता हूं!

 

T20 की कप्तानी विराट ने छोड़ी

T20

अंत में उन्होंने लिखा, बिलकुल, इस फैसले तक पहुंचने के लिए काफी समय लगा। अपने करीबी लोगों, रवि भाई और रोहित के भी साथ इस बारे में ढेर सारी चर्चा के बाद मैंने तय किया है कि मैं अक्टूबर में दुबई में होने वाले T20 विश्व कप के बाद इस फॉर्मेट की कप्तानी छोड़ दूंगा। मैंने सेक्रेटरी मिस्टर जय शाह और बीसीसीआई के प्रेसिडेंट सौरव गांगुली और सभी सेलेक्टर्स से भी इस बारे में बात की थी। मैं भारतीय क्रिकेट और भारतीय टीम के लिए काम करता रहूंगा।
कुछ दिनों पहले एक रिपोर्ट सामने आई थी, जिसमें रोहित शर्मा को T20 टीम का कप्तान बनाने के संकेत दिए गए थे। लेकिन, कुछ देर बाद ही बीसीसीआई सचिव जय शाह ने इस रिपोर्ट को खारिज करते हुए बयान दिया था कि ऐसा कुछ नहीं है। विराट कोहली ने अब तक T20 फॉर्मेट में भारत का 45 मैचों में नेतृत्व किया। उनकी कप्तानी में भारत ने 29 मैच जीते और 14 मैच हारे। बतौर कप्तान उन्होंने T20 में 1502 रन बनाए है और उनका औसत 48.45 का रहा है। उनका स्ट्राइक रेट 143.18 का रहा, इसमें 12 हाफ सेंचुरी शामिल हैं। उनका सबसे अच्छा स्कोर 94 का है।

Also Read: Dhoni को Defense Ministry ने दी नई और बड़ी ज़िम्मेदारी

विराट कोहली के कप्तानी छोड़ने की टाइमिंग को लेकर काफी चर्चा है। वर्ल्ड कप शुरू होने में एक महीने का वक्त बचा है। ऐसे में कोहली की यह घोषणा और वह भी टि्वटर पर नए सवाल खड़े करती है। इससे लोग काफी हैरान हैं। इसके दूसरे पहलू को देखें तो कोहली काफी समय से खुद पर वर्कलोड को लेकर बात करते आए हैं। कोहली ने अभी आठ दिन पहले ही सिलेक्टर्स के साथ T20 वर्ल्ड कप की टीम को लेकर बैठक की थी। यह वर्ल्ड कप अक्टूबर-नवम्बर में यूएई में खेला जाएगा।

Also Read: भारत ही नहीं, दुनिया की आशा के केंद्र हैं नरेंद्र मोदी

उन्होंने कहा था कि बीते 8-9 साल से मैं तीनों प्रारूपों में देश का प्रतिनिधित्व कर रहा हूं। बीते 5-6 साल से मैं तीनों का कप्तान हूं। मुझे लगता है कि टेस्ट और वनडे फॉर्मेट में कप्तानी के लिए तैयार होने के लिए मुझे थोड़ा स्पेस छोड़ने की जरूरत है। T20 कप्तान के तौर पर मैंने अपना सब कुछ दिया और मैं टी20 टीम में बल्लेबाज के तौर पर जुड़ा रहूंगा।