Water Crisis in Rain : भारी बारिश के बावजूद शहर में जल संकट, आधी टंकियां खाली!

नर्मदा में पानी बढ़ने से थर्ड फेज के 180 एमएलडी पंप बंद!

165

Water Crisis in Rain : भारी बारिश के बावजूद शहर में जल संकट, आधी टंकियां खाली!

 

Indore : शहर में तीन दिन से पानी बरस रहा है। हर तरफ पानी ही पानी है। लेकिन, शहरवासियों को आज रविवार को पानी की समस्या से जूझना पड़ा। क्योंकि, शहर में पानी टंकियां पूरी क्षमता से नहीं भर सकीं। नर्मदा का जलस्तर बढ़ने से थर्ड फेज के 180 एमएलडी पंप बंद हो गए। 32 में से 15 टंकियां कम भर सकी और 17 पूरी तरह खाली रही।

नर्मदा तृतीय चरण के सभी पंप केवी पावर सप्लाई बंद होने के कारण एवं 132 केवी भकलाई में ट्रांसफार्मर नंबर-1 मैं आयल लेबल कम होने के कारण ट्रांसफार्मर बार-बार ट्रिपिंग होने के कारण सायं 04:59 पर बंद हो गए थे। पुनः ट्रांसफार्मर नंबर 2 पर लोड शिफ्ट कर सायं 7:20 पर 270 एमएलडी के पंप चालू किए थे l

16 सितंबर दोपहर 12:40 पर नर्मदा नदी का जल स्तर बढ़ने से कंट्रोल पैनल तक पानी आने के कारण 90 एमएलडी का एक और पंप बंद किए। प्रातः 08:50 पर पीएच-1 पर पैनल मे इलेक्ट्रिक फाल्ट होने के कारण सभी पंप बंद किए गए। सुधार कार्य पूरा होने के बाद सायं 05:05 पर चालू किए गए। नर्मदा प्रथम द्वितीय एवं तृतीय चरण के पंप बंद होने के कारण 17 सितंबर को पानी की टंकियां कम भराई या खाली रही।

15 टंकियां कम भरी, 17 खाली रही

पवार सप्लाय बंद रहने से जो टंकियां कम भराई वे हैं स्कीम नं-103, राज मोहल्ला, सदर बाजार, सुभाष चौक, लोकमान्य नगर, द्रविड़ नगर, महाराणा प्रताप नगर, कुशवाह नगर, भंवरकुंआ, नंदानगर रोड नं-13, स्कीम नं-114, बुद्ध नगर, स्कीम नं-114, स्कीम नं-78 और स्कीम नं-136 की टंकियां। इसके अलावा जो टंकियां खाली रही वे हैं एमओजी लाइन, बिलावली, सीपी शेखर नगर, मूसाखेड़ी, टूटी प्रेस, शिव नगर, महावीर नगर, सिलिकॉन सिटी, न्यू रानी बाग़, स्कीम नं-140, सर्व सुविधा नगर, क़ृषि नगर, रेडिओ कॉलोनी, भूरी टेकरी, मित्र बंधु नगर, तपेश्वरी बाग़ और समर पार्क।

ये स्थिति आखिर क्यों बनी  

भारी बारिश के कारण नर्मदा का जलस्तर तेजी से बढ़ गया। इसके चलते थर्ड फेज के पम्पों को एहतियात के तौर पर बंद कर दिया गया। क्योंकि, पूरा इलेक्ट्रिक सिस्टम डूब क्षेत्र में आ गया। नर्मदा का जल स्तर 155 फीट पर पहुंच गया। इसका असर शहर में भरने वाली पानी की टंकियों पर इसका असर दिखाई दिया। नर्मदा के कार्यपालन यंत्री संजीव श्रीवास्तव ने बताया फर्स्ट और सेंकड फेज में भी बिजली फॉल्ट के चलते पम्प बंद हो गए, जिन्हें देर से चालू किया जा सका। इससे शहर की आधी से ज्यादा टंकियां पूरी क्षमता से नहीं भर सकी। ये स्थिति कुछ दिन बने रहने के आसार हैं।