WFI ने लिया बड़ा फैसला, बजरंग, विनेश और साक्षी को ओलंपिक क्वालीफायर ट्रायल के लिया बुलाया!

181

WFI ने लिया बड़ा फैसला, बजरंग, विनेश और साक्षी को ओलंपिक क्वालीफायर ट्रायल के लिया बुलाया

भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) ने प्रदर्शनकारी पहलवानों बजरंग पूनिया, विनेश फोगाट और संन्यास की घोषणा कर चुकी ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक को किर्गिस्तान में होने वाले पेरिस ओलंपिक क्वालीफायर सहित एशिया की दो टॉप के टूर्नामेंट्स के लिए मार्च में होने वाले राष्ट्रीय ट्रायल में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया।

इससे पहले विश्व कुश्ती की सर्वोच्च संस्था यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग ने जब WFI से निलंबन हटाया था तब UWW ने राष्ट्रीय महासंघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले पहलवानों के खिलाफ भेदभावपूर्ण रवैया नहीं अपनाने की भी शर्त रखी थी।

पहलवानों को ट्रायल के लिए बुलाया

भारतीय कुश्ती महासंघ का निलंबन हटाते समय डब्ल्यूएफआई ने 10 और 11 मार्च को होने वाले ट्रायल्स के लिए बजरंग (65 किग्रा फ्री स्टाइल), विनेश (55 किग्रा) और साक्षी (65 किग्रा) के नाम को भी शामिल किया है। साक्षी ने संजय सिंह के अध्यक्ष चुने जाने के बाद संन्यास लेने की घोषणा कर दी थी। उन्होंने ओलंपिक 2016 में कांस्य पदक जीता था।

संजय सिंह ने दिया ये बयान

संजय सिंह ने बयान में कहा कि मैं भारतीय कुश्ती महासंघ की सभी मान्यता प्राप्त इकाइयों को सूचित करना चाहता हूं कि टूर्नामेंट के लिए टीम का चयन करने के लिए 10 और 11 मार्च को आईजी खेल परिसर के केडी यादव कुश्ती इंडोर स्टेडियम में ट्रायल्स का आयोजन किया जाएगा। बयान के अनुसार चयन ट्रायल्स 11 से 16 अप्रैल तक बिश्केक (किर्गिस्तान) में सीनियर एशियाई कुश्ती चैम्पियनशिप और 19 से 21 अप्रैल तक उसी स्थान पर एशियाई ओलंपिक क्वालीफायर टूर्नामेंट के लिए टीमों का चयन करने के लिए आयोजित किए जाएंगे।

WFI से हटाया था बैन

इससे पहले यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग (UWW) ने भारतीय कुश्ती महासंघ (WFI) पर लगा निलंबन तत्काल प्रभाव से हटा लिया है। यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग ने साल 2023 अगस्त में भारतीय कुश्ती महासंघ को निलंबित कर दिया था, क्योंकि WFI तय समय पर चुनाव कराने में विफल रहा था।