Wednesday, October 16, 2019
पारस विद्या विहार स्कूल में बच्ची के साथ चपरासी ने की छेड़छाड़

पारस विद्या विहार स्कूल में बच्ची के साथ चपरासी ने की छेड़छाड़

मीडियावाला.इन। बीओ। सागर में एक निजी स्कूल में चपरासी द्वारा कक्षा तीसरी की नाबालिग छात्रा के साथ छेड़छाड़ का सनसनीखेज मामला सामने आया है। घटना सिविल लाइन पुलिस थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाली पारस विद्या बिहार की है।जहाँ स्कूल में पड़ने वाली कक्षा तीसरी की नाबालिग छात्रा के साथ स्कूल में कार्यरत चपरासी देवकीनंदन अहिरवार काफी समय से छेड़खानी की घटना कर रहा था।जिसके डर से छात्रा पिछले दो दिन से स्कूल जाने से कतरा रही थी।

इस घटना का खुलासा उस वक़्त हुआ जब बच्ची की ने स्कूल न जाने की वजह जानी तो डरी सहमी बच्ची ने अपनी मां को बताया कि स्कूल में जब बाथरूम के लिए जाते हैं तो स्कूल में ही पढ़ने वाले प्रिंस के पापा देवकीनंदन गंदी गंदी हरकते किया करते हैं।वही बच्ची के साथ घिनोनी हरतकत करने वाला चपरासी मासूम बच्ची को डंडे से मारने की धमकी देकर डराता था।इस घटनाक्रम की जानकारी लगने पर बच्ची के अभिभावक स्कूल पहुँचे सारे घटनाक्रम की जानकारी से स्कूल प्रबंधन को अवगत कराया गया।लेकिन स्कूल प्रबधंन स्कूल में बच्ची के साथ घटी घटना को लेकर गंभीर नही दिखा। जिसके बाद पीड़ित परिवार ने सिविल लाइन पुलिस थाने पहुंचकर पारस विद्या बिहार स्कूल के चपरासी खिलाफ बच्ची के साथ छेड़खानी की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए घटना स्थल पारस विद्या बिहार स्कूल पहुँची। जहाँ पुलिस ने आरोपी चपरासी देवकीनंदन अहिरवार को स्कूल परिसर से अपनी हिरासत में ले लिया। पीड़ित बच्ची के परिजनों ने बताया कि बच्ची के साथ काफी दिनों से स्कूल का चपरासी गंदी हरकतें कर रहा था।जिसके डर से बच्ची स्कूल नही जा रही थी। वही स्कूल प्रबंधन ने इस घटना में अपना पक्ष रखते हुए कहा कि स्कूल में सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम हैं। बच्ची के साथ ऐसी कोई घटना घटी है तो आरोपी के खिलाफ पुलिस द्वारा कार्यवाही की जा रही है। हालांकि पारस विद्या बिहार स्कूल में मासूम बच्ची के साथ घटी यह घटना बेहद ही गंभीर है।पुलिस ने आरोपी चपरासी देवकीनंदन अहिरवार पर छेड़छाड़ का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा पुलिस द्वारा सारे घटनाक्रम को जांच में लेते हुए यह भी पता लगाने में जुटी हैं कि इस तरह की छेड़छाड़ और किन किन बच्चियों के साथ कि गई हैं।

0 comments      

Add Comment