Monday, September 23, 2019
मध्य प्रदेश के CM कमलनाथ का ऐलान, पुलवामा हमले में शहीद के परिवार को 1 करोड़ रुपये और नौकरी की मदद

मध्य प्रदेश के CM कमलनाथ का ऐलान, पुलवामा हमले में शहीद के परिवार को 1 करोड़ रुपये और नौकरी की मदद

मीडियावाला.इन।भोपाल: 

जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार शाम हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों में से एक मध्य प्रदेश जबलपुर के अश्विनी कुमार काछी भी हैं. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अश्विनी की शहादत को नमन करते हुए उनके परिवार को एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद और परिवार के सदस्य को नौकरी देने की घोषणा की है. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में हुए हमले को आतंकियों का कायराना कृत्य बताया है. कमलनाथ ने शुक्रवार को शहीद जवानों को श्रद्घांजलि देते हुए ट्वीट कर कहा, "हमले में जबलपुर के शहीद सपूत अश्विनी कुमार काछी की शहादत को नमन करता हूं. राज्य सरकार द्वारा शहीद के परिवार को एक करोड़ रुपये, एक आवास व परिवार के एक सदस्य को शासकीय नौकरी दी जाएगी. दुख की घड़ी में हम उनके साथ है."कमलनाथ ने कहा कि यह शहादत बताती है कि  हमारे प्रदेश के नौजवानों में देश की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने का साहस है। उनकी वीरता का ही परिणाम है कि दुश्मन कायराना 

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे शहीद अश्विनी कुमार के परिवार को सलाम करते हैं, जिन्होंने अपने वीर सपूत को देश की रक्षा के लिए सीमा पर भेजा। आतंकवाद का कोई भी स्वरूप प्रदेश और देश में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कमलनाथ ने कहा कि आतंकवाद को बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए और उसे समूल नष्ट करने के लिये कड़े कदम उठाने की आवश्यकता है।

 

श्रद्धाजंलि देने खुड़ावल जाएंगे 
मुख्यमंत्री कमलनाथ जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए जबलपुर के जवान अश्विनी कुमार काछी के कल घर जाकर शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। मुख्यमंत्री कमलनाथ कल 16 फरवरी को जबलपुर में शहीद जवान के गांव खुड़ावल जाकर शहीद अश्विनी कुमार काछी के परिजन को सांत्वना देंगे। 

 

जबलपुर जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर खुड़ावल के जवान अश्विनी कुमार काछी कल के आतंकवादी हमले में शहीद हो गए। राज्य शासन ने शहीद के परिजन को एक करोड़ रुपए की राहत राशि, एक मकान और परिवार के एक व्यक्ति को शासकीय नौकरी देने की घोषणा की है। इधर, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी शहीद के परिजनों से मिलने और उन्हें श्रद्धाजंलि देने जबलपुर के खुड़ावल जाएंगे। 

 

कैबिनेट बैठक से पहले नहीं होगा स्वागत 
प्रदेश के वित्तमंत्री तरुण भनोट ने बताया कि पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जबलपुर के बेटे के मद्देनजर कैबिनेट बैठक से पहले किसी तरह का स्वागत-सत्कार नहीं किया जाएगा। बता दें कि शनिवार को पहली बार कांग्रेस सरकार भोपाल से बाहर संस्कारधानी जबलपुर में कैबिनेट की बैठक करने जा रही है। 

बातें याद कर रो रहा है गांव, शहीद की बेटी बोली- अब नेता बड़ी-बड़ी बातें करेंगे

गौरतलब है कि गुरुवार की शाम को जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हुए हैं. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलवामा हमले पर कहा कि पुलवामा में हमारे बहादुर जवानों पर कायराना आतंकी हमला किया गया है. जवानों का यह बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. आतंकवाद को जड़ और मूल से उखाड़कर फेंकने तक भारत चुप नहीं बैठेगा.  उन्होंने इस हमले की घोर निदा करते हुए दिवंगत जवानों को श्रद्घा सुमन अर्पित किए. 

 

 

0 comments      

Add Comment