Benefits of  Beetroot: ये हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं.

612
Benefits of  Beetroot

Benefits of  Beetroot: ये हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं.

Benefits of  Beetroot:चुकंदर एक ऐसी सब्जी है जिसकी पैदावार जमीन के अंदर होती है और इसमें कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं. यही वजह है कि ये हमारी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं. चुकंदर का सेवन कई तरीके से किया जा सकता है इसमें सब्जी, सलाद और जूस शामिल है. कई लोगों को इसका टेस्ट पसंद नहीं आता, लेकिन जो लोग इसकी न्यूट्रीशनल वैल्यू को जानते हैं वो इसे डेली डाइट में जरूर शामिल करते हैं.

गाढ़े लाल रंग की यह सब्जी कई प्रकार के आवश्यक विटामिन्स, खनिज और पौष्टिकता से भरपूर होती है। सलाद और जूस के रूप में इसका सेवन वर्षों से किया जाता रहा है। कैलोरी में कम होने के साथ चुकंदर में प्रोटीन, फोलैट, मैग्नीशियम, विटामिन-बी और आयरन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है, जो इसे सेहत के लिए अत्यंत फायदेमंद बनाती है। 100-ग्राम की मात्रा में चुकंदर से फोलेट के दैनिक आवश्यकताओं की 20 फीसदी तक की पूर्ति का जा सकती है। फोलेट, विटामिन बी-9 का एक प्रकार होता है जो लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में विशेष भूमिका निभाता है।

Benefits of  Beetroot

चुकंदर में मैंगनीज की भी अच्छी मात्रा में होती है, जो हड्डियों के निर्माण, पोषक तत्वों के मेटाबॉलिज्म, मस्तिष्क के कार्य को ठीक रखने और शरीर के लिए कई प्रकार के अन्य आवश्यक कार्यों में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती है। इसके अलावा चुकंदर में कॉपर भी पाया जाता है जो ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक है और आपको कार्य करने की शक्ति प्रदान करता है। दैनिक आहार में चुकंदर को जरूर शामिल करें। आइए इससे सेहत को होने वाले फायदों के बारे में जानते हैं।

Fruit stickers codes: जानिए क्या होता है फलों के ऊपर लगे स्टीकर का मतलब, इनपर लिखे कोड का आपकी सेहत से है संबंध! 

चुकंदर (Beetroot) में कैल्शियम, आयरन (Iron) और एंटीऑक्सीडेंट (antioxidants) समेत कई न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं. अगर आप 10 ग्राम चुकंदर खाएंगे तो सिर्फ 43 मिलीग्राम कैलोरीज और 2 ग्राम फैट मिलेंगे यानी ये शरीर का वजन नहीं बढ़ाता. ये प्रोटीन से भी भरपूर होता है जो हमारे विकास के लिए बेहद अहम पोषक तत्व है.

अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती है तो चुंकदर का सलाद या जूस का सेवन जरूर करना चाहिए, ऐसा करने पर कुछ ही दिनों में बीपी कंट्रोल हो जाएगी

क्या आप जानते हैं पूरे शरीर में क्यों होती है झनझनाहट क्या है इसका कारण 

चुंकदर खाने से इम्यूनिटी बूस्ट होती है जिससे हम कई तरह की बीमारियों और संक्रमण से बच जाते हैं. खासकर इसका जूस और सलाद बेहद फायदेमंद माना जाता है.

many health benefits of beetroot juice chukandar juice ke fayde in hindi brmp | आपको इन बीमारियों से बचाता है चुकंदर जूस, चेहरे पर बढ़ जाती है चमक, जानिए इसके 6 जबरदस्त

चुंकदर का सेवन करना आपको पूरे दिन ऊर्जावान बनाए रखने का सबसे आसान साधन हो सकता है। कई अध्ययनों से पता चलता है कि चुकंदर में पाए जाने वाले डाइट्री नाइट्रेट, एथलेटिक प्रदर्शन को बढ़ा सकते हैं। नाइट्रेट्स, माइटोकॉन्ड्रिया की दक्षता में सुधार करके शारीरिक प्रदर्शन को बढ़ावा देने में मदद करते हैं।

एक कप चुकंदर में करीब 3.4 ग्राम फाइबर होता है, जिसे पाचन को ठीक रखने में विशेष लाभकारी माना जाता है। फाइबर पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के साथ कब्ज, पेट के सूजन, आंतों के रोग को नियंत्रित करने में सहायक माना जाता है।

इसके अलावा, फाइबर को कई तरह की क्रोनिक बीमारियों के जोखिम को कम करने के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। फाइबर, कोलन कैंसर, हृदय रोग और टाइप-2 डायबिटीज वाले रोगियों के लिए भी काफी आवश्यक होता है।

वहीं ज्यादा खाने से इसके साइड इफेक्ट (Side Effects Of Beetroot) भी देखने को मिल सकते हैं.

यूरिन
बहुत अधिक चुकंदर खाने वाले लोगों में बीटुरिया की दिक्कत हो सकती है. इसकी वजह से उनके यूरिन का रंग बदल जाता है और वह गुलाबी या गहरा लाल आने लगता है.

पथरी
रिसर्च के मुताबिक, चुकंदर में ऑक्सालेट भरपूर मात्रा में होती है, जिसकी वजह से अक्सर लोगों को पथरी की शिकायत हो सकती है. चुकंदर में पाया जाने वाला ऑक्सालेट पथरी को बढ़ाने का काम करता है.

स्किन एलर्जी
अधिक चुकंदर के सेवन से एनाफिलेक्सिस की भी दिक्कत हो सकती है. यह एक एलर्जी होती है, जिसकी वजह से लोगों के स्किन पर खुजली, चकत्ते, सूजन देखी जाती है. इसके साथ ही ज्यादा चुकंदर खाने से अस्थमा के लक्षण भी नजर आने लगते हैं.

उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।संबंधित लेख केवल  पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए दिया गया है.

Foods For Hormonal Health: हार्मोन को हेल्दी रखने के लिए खाएं ये 5 फूड्स