Bungalow Plan Stopped in Bhopal : मंत्रियों और विधायकों के बंगलों की योजना रोकने की घोषणा, 29 हजार पेड़ नहीं कटेंगे!

नगरीय प्रशासन मंत्री ने 'एक्स' पर पोस्ट करके जानकारी दी, पर आदेश निकलने तक आंदोलन नहीं रुकेगा!

539

Bungalow Plan Stopped in Bhopal : मंत्रियों और विधायकों के बंगलों की योजना रोकने की घोषणा, 29 हजार पेड़ नहीं कटेंगे!

Bhopal : सरकार ने तुलसी नगर और शिवाजी नगर में विधायकों और मंत्रियों के लिए आवास बनाने का जो प्रस्ताव बनाया था, उसे रोक दिया गया। 29 हजार पेड़ों को काटने से रोकने के जनआंदोलन के सामने सरकार को झुकना पड़ा। योजना के तहत करीब 29 हजार पेड़ों को काटकर यहां आवास बनाए जाने वाले थे। नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने ‘एक्स’ पर पोस्ट करके इस फैसले की जानकारी दी।

सरकार की इस योजना को लेकर अलग-अलग इलाकों में जन आंदोलन शुरू हो गया था। जनता ने पेड़ों को काटने का विरोध शुरू किया था। किसी ने सांकेतिक चिपको आंदोलन और रक्षा सूत्र बांधकर पेड़ों को काटने का विरोध शुरू किया था। इसमें कई कांग्रेस के नेता भी शामिल हुए। 12 जून से लगातार पेड़ों को काटने को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे है। 29 हजार पेड़ों में कई सालों पुराने पेड़ भी शामिल है।

IMG 20240617 WA0160

लगातार हो रहे आंदोलन के कारण सरकार को प्रस्ताव को अस्वीकृत करने के लिए मजबूर होना पड़ा। नगरीय विकास एवं आवास मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने जानकारी दी कि नए भोपाल के पुनर्घनत्वीकरण योजना के पर्यावरण संरक्षण एवं क्षेत्र में विद्यमान वृक्षों को देखते हुए प्रस्तुत प्रस्ताव को संपूर्ण विचारोपरांत अस्वीकृत कर अन्य वैकल्पिक स्थानों के परीक्षण के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने आगे लिखा कि नवीन प्रस्ताव के लिए प्रारंभिक स्तर पर भी नागरिकों एवं जनप्रतिनिधियों से विचार विमर्श भी किया जाएगा।

मंत्री और विधायक के बंगलों की योजना 

तुलसी नगर और शिवाजी नगर में 297 एकड़ जमीन पर विधायक और मंत्रियों के बंगले बनने की सरकार ने योजना बनाई थी। करीब 2400 करोड़ रुपए की इस योजना में मंत्रियों के लिए 30 बंगले, 16 फ्लैट और विधायकों के लिए फ्लैट साथ ही करीब 3500 बंगले और अधिकारियों के लिए फ्लैट भी बनाए जाने थे। इन बंगलों और फ्लैट का निर्माण करने वाले डेवलपर को 63 एकड़ लैंड पार्सल किए जाने थे। जिन पर वह कमर्शियल और रेसिडेंशियल बिल्डिंग डेवलपमेंट करता।

प्रदर्शन तभी रुकेगा जब आदेश निकलेगा

आंदोलन करने वालों की अगुवाई करने वालों का कहना है कि नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय का सोशल मीडिया पर प्रस्ताव वापस लेने की बात देखी है। इस तरह के आश्वासन पहले भी कई बार दिए जा चुके है। यह आंदोलन तभी रुकेगा जब सरकार आदेश निकालेगी। आज होने वाला प्रदर्शन भी जारी रहेगा, रात को कैंडल मार्च निकालेंगे। तुलसी नगर से कैंडल मार्च निकाला जाएगा।