Bunty Aur Babli :इन्वेस्टमेंट के नाम पर पति-पत्नी ने कई लोगों को करोड़ों का चूना लगाया!

510

Bunty Aur Babli :इन्वेस्टमेंट के नाम पर पति-पत्नी ने कई लोगों को करोड़ों का चूना लगाया!

7 महीने बाद आखिरकार पुलिस के हाथ लगे ये ठगोरे बंटी-बबली!

Indore : बंटी और बबली एक फिल्म थी, जिसमें अभिषेक बच्चन और रानी मुखर्जी लोगों को झांसा देकर ठगते हैं। वो एक फिल्म थी सच्चाई नहीं! लेकिन, यहां के असली वाले बंटी और बबली भी किसी कम नहीं निकले। इस ठगोरे पति-पत्नी ने हाईप्रोफाइल जिंदगी जीने के लिए लोगों को लूटने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने 25 से ज्यादा लोगों से करोड़ों रुपए की ठगी की और जब शिकायत दर्ज हुई तो फरार हो गए। सात महीने बाद ये ठग पति-पत्नी पुलिस के हाथ लगे हैं। इनके नाम पर 5 से ज्यादा कंपनियां रजिस्टर्ड हैं। पुलिस जांच कर रही है कि और कितने लोगों से ठगी की है।
हेमंत परिहार और उसकी पत्नी ज्योति परिहार को देखकर नहीं समझा जा सकता कि ये ठग भी हो सकते हैं। अच्छे घर में रहने वाले, शिक्षित और कार में घूमने वाले ऐसा कारनामा करते होंगे ये किसी ने सोचा भी नहीं होगा। पिछले साल कुछ लोगों ने इनकी शिकायत की थी। ये पति-पत्नी ऐशो-आराम की जिंदगी जीने के लिए कई लोगों को चूना लगा चुके थे। अपने झांसे में लेकर लाखों रुपए अपने अकाउंट में ट्रांसफर करवा चुके।
ज्योति को कार, बंगला, हीरे के आभूषण, महंगा मोबाइल और घर के ऐश का सारा सामान चाहिए था। वो लग्जरी लाइफ जीना चाहती थी। पति की यह सब लाने की कूबत नहीं थी, तो वो ठगी और चोरी करने लगा। पत्नी की चाहतों को पूरा करने के लिए उसके पास यही एक रास्ता था। अपने और पत्नी के शौक पूरे करने के लिए वे लोगों को निवेश के नाम पर लूटते रहे। लोगों से पैसे अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करवाते और शानो-शौकत की जिंदगी जीते।

Change in Prison Act : 130 साल पुराने जेल अधिनियम में बदलाव किया गया! /

खुद को शेयर मार्केट का एक्सपर्ट बताते
पति -पत्नी खुद को शेयर मार्केट का एक्सपर्ट बताते थे। लोगों को अपनी लच्छेदार बातों में उलझाते और बाजार में पैसा इन्वेस्ट करवाने के नाम पर पैसा ठगते रहे। शेयर में पैसा लगाने के नाम पर लोगों से अकाउंट में ट्रांसफर करवाते और कहते कि पैसा मार्केट में लगा दिया है। बाद में नुकसान की बात कहकर लोगों से और पैसा इन्वेस्ट करवाते। इस तरह ये करीब 25 लोगों को अपने झांसे में ले चुके थे। करीब 2 करोड़ रुपए इस फ्रॉड कपल के अकाउंट में ट्रांसफर हुआ।
पिछले साल इनके खिलाफ जब लोगों ने शिकायत दर्ज की, तो पुलिस इन्हें गिरफ्तार करने घर पहुंची। लेकिन, ये वहां से फरार हो चुके थे। करीब 7 महीने ये पुलिस से बचते रहे। आखिरकार तीन दिन पहले इन्हें दबोच लिया। पुलिस को सूचना मिली थी ये अपने एक पुराने घर में कुछ काम से आने वाले है। समय पर पुलिस ने दबिश दी और इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

Public Hearing: मेरी प्यारी डीएम बिटिया…, महिला का पत्र पढ़कर भावुक हुईं डीएम