Comrades Marathon : दक्षिण अफ्रीका में कॉमरेड्स मैराथन पूरी करने वाले पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी सचिन शर्मा का सम्मान!

86 किलोमीटर की दुनिया की सबसे मुश्किल मैराथन को 11 घंटे और 24 मिनट में पूरा किया। 

101

Comrades Marathon : दक्षिण अफ्रीका में कॉमरेड्स मैराथन पूरी करने वाले पश्चिम रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी सचिन शर्मा का सम्मान!

Mumbai : पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक के सचिव सचिन अशोक शर्मा ने हाल ही में दक्षिण अफ्रीका में हाल ही में समाप्‍त कॉमरेड्स मैराथन 2024 में उल्लेखनीय सफलता हासिल की है। कॉमरेड्स मैराथन दुनिया की सबसे चुनौतीपूर्ण लंबी दूरी की दौड़ों में से एक है। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में डरबन से पीटर मैरिट्जबर्ग तक चलने वाली 86 किलोमीटर की इस मैराथन को 11 घंटे और 24 मिनट में पूरा किया। कॉमरेड्स मैराथन को दुनिया की सबसे पुरानी और सबसे कठिन मैराथन के रूप में जाना जाता है, में विभिन्न देशों के 20 हजार धावकों ने भाग लिया, जिसने इसे दुनिया की सबसे बड़ी मैराथन बना दिया। 1921 में शुरू की गई इस ऐतिहासिक दौड़ में 1,800 मीटर की ऊंचाई के साथ एक कठिन चढ़ाई शामिल है।

सचिन शर्मा की उपलब्धि एक नियमित फिटनेस उत्साही के रूप में उनके समर्पण और धीरज का प्रमाण है। वे अपने स्कूल के दिनों (सिंधिया स्कूल, ग्वालियर) से ही खेल और बाहरी गतिविधियों में सक्रिय रूप से शामिल रहे हैं, जिसमें एथलेटिक्स, क्रिकेट, फुटबॉल, बॉक्सिंग, स्केटिंग, बैडमिंटन, शूटिंग आदि में उनकी विशेष रुचि है। कॉलेज में, उन्होंने वेट ट्रेनिंग और छोटी दूरी की दौड़ का अभ्यास किया। सिविल सेवा की तैयारी के दिनों में वे रोजाना जॉगिंग करते रहे और अकादमी में रहते हुए उन्होंने क्रॉस कंट्री में स्वर्ण पदक जीता। सचिन ने अपने व्यस्त कार्य शेड्यूल के बावजूद जिम में नियमित स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के साथ-साथ थोड़ी बहुत दौड़ भी जारी रखी। उन्होंने कोविड महामारी लॉकडाउन के दिनों में योग और किक बॉक्सिंग शुरू की।

पिछले कुछ वर्षों में सचिन शर्मा ने कई 10 किमी दौड़, हाफ और फुल मैराथन, अल्ट्रा मैराथन, ट्रायथलॉन में भाग लिया है। इनमें से कुछ उल्लेखनीय हैं लद्दाख फुल मैराथन, टाटा मुंबई मैराथन, वसई-विरार मैराथन, टाटा अल्ट्रा (50 किमी), कास अल्ट्रा (65 किमी), खारदुंग ला चैलेंज (हाई एल्टीट्यूड में 72 किमी), पुणे अल्ट्रा ट्रायल रन (100 किमी), गोवा आयरनमैन (70.3 किमी), बर्गमैन (113 किमी), बर्गमैन ओलंपिक डिस्टेंस। उन्होंने ओपन सी स्विमिंग में भी भाग लिया और उसे पूरा किया है। सनक रॉक टू गेटवे (5 किमी) राष्ट्रीय स्तर, मालवन सी स्विमथॉन (3 किमी)-राष्ट्रीय स्तर और जुहू सी स्विमथॉन (3 किमी)-राज्य स्तर।

IMG 20240618 WA0060

इस कॉमरेड मैराथन के सफल समापन के साथ सचिन अब सितंबर 2024 में लद्दाख में आयोजित होने वाले सिल्क रूट अल्ट्रा (122 किमी), दिसंबर 2024 में हेल रेस जैसलमेर से लोंगेवाला (160 किमी) और नवंबर 2025 में पुणे अल्ट्रा (160 किमी) के साथ 2025 में आयरनमैन ऑस्ट्रेलिया में भाग लेने का लक्ष्य बना रहे हैं। सचिन अपनी सफलता का श्रेय अपने कोच गिरीश बिंद्रा, आदिल मिर्जा, विनय उपाध्याय से मिले प्रशिक्षण और अपने परिवार, दोस्तों और सहकर्मियों से मिले समर्थन और प्रोत्साहन को देते हैं। उन्होंने मध्य रेल के महाप्रबंधक के रूप में सेवानिवृत्त हुए नरेश लालवानी को उन्‍हें डिस्‍टेंस रनिंग से परिचित कराने का श्रेय देते हैं।