Fake IAS Officer Arrested : फर्जी आईएएस अधिकारी हुआ गिरफ्तार

सीक्रेट मिशन पर आया, PMO से हूं.

666
Fake IAS officer :

Fake IAS Officer Arrested : फर्जी आईएएस अधिकारी हुआ गिरफ्तार

 पुणे:एक  फ्रॉड का बड़ा मामला सामने आया है. फर्जी आईएएस अधिकारी का नाम वासुदेव निवृत्ति तायडे (उम्र 54, फ्लैट नंबर 336, रनवार रोहाउस तलेगांव दाभाडे) है।महाराष्‍ट्र के पुणे में फ्रॉड का बड़ा मामला सामने आया है। पुणे पुल‍िस ने एक फर्जी आईएएस अधिकारी को गिरफ्तार किया है। वह खुद को दिल्ली में प्रधानमंत्री कार्यालय में उप सचिव होने का नाटक करता था और पुणे के बनेर में एक सामाजिक कार्यक्रम में हिस्‍सा ले रहा था। वह ऐसा क्यों कर रहा था? यह अभी तक साफ नहीं हो सका है। हालांकि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। चतुर्शृंगी पुलिस स्टेशन में उसके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार, औंध पुणे बॉर्डरलेस वर्ल्ड फाउंडेशन के कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर को राहत पहुंचाने के लिए एक एंबुलेंस का उद्घाटन समारोह आयोजित किया गया था। कार्यक्रम के आयोजक वीरेन शाह, सुहास कदम, पीके गुप्ता सहित अन्य ट्रस्टी और सदस्य थे। इस कार्यक्रम में गेस्‍ट के रूप में आए वासुदेव तायडे ने अपना नाम डॉ. विनय देव बताया। इस दौरान उसने कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को झूठी सूचना दी कि वह प्रधानमंत्री कार्यालय में उप सचिव के रूप में कार्यरत हैं और गोपनीय कार्य कर रहे हैं।

हालांकि दी गई जानकारी संदिग्ध होने के कारण जब संस्था के पदाधिकारियों ने और सवाल पूछे तो उन्हें वासुदेव तायडे पर शक हो गया। उन्होंने इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। उसके आधार पर पुणे की यूनिट एक के अधिकारियों ने डॉक्टर विनय देव नाम के व्यक्ति को उसके तालेगांव स्थित घर से गिरफ्तार किया। उसके बाद जब उससे गहनता से पूछताछ की गई तो उसने अपना नाम वासुदेव निवृत्ति तायडे बताया। तायडे के खिलाफ चतुर्शृंगी पुलिस स्टेशन में आईपीसी की धारा 419, 170 के तहत मामला दर्ज किया गया है।