KBC की प्रतिष्ठा गिरा रहा शुक्रवार का एपीसोड

1095

KBC की प्रतिष्ठा गिरा रहा शुक्रवार का एपीसोड

श्रीप्रकाश दीक्षित की विशेष रिपोर्ट

हिन्दी सिनेमा के महानायक अमिताभ बच्चन आज एक कम 80 साल के हो गए.इस उम्र मे भी उनका सितारा बुलंदी पर है और फिल्मों,विज्ञापनो के अलावा कौन बनेगा करोड़पति के मार्फत वे टीवी पर भी जलवा बिखेर रहे हैं. प्रिंट और इलेक्ट्रिक मीडिया के हर दूसरे विज्ञापन मे छाकर वे खूब दौलत भी बटोर रहे हैं.

बहरहाल इस सीजन मे शुक्रवार को नुमाया होने वाला एपीसोड फिल्मी सितारों/ क्रिकेटरों के महिमामंडन का मंच बन जाने से केबीसी की प्रतिष्ठा को गिरा रहा है.ऐसे मे बच्चन को फ्लाप से हिट बनाने वाली जंजीर के लेखक सलीम द्वारा दी गई सलाह पर बरबस ध्यान गया की अब उन्हें ग्रेसफुली रिटायर हो जाना चाहिए.

KBC

अफसोस, इस एपीसोड को शानदार शुक्रवार नाम दिया गया है जो पिछले सीजन तक कर्मवीर नाम से दिखाया जाता था.इसमे वे लोग आते थे जिन्होंने अपना सारा जीवन दुखियारों को समर्पित कर रखा है.इस सीजन का शुक्रवार गांगुली और सहवाग,श्राफ और शेट्टी और रीतेश देशमुख और उनकी पत्नी जेनेलिया आदि को समर्पित है.

बीते शुक्रवार के एपीसोड मे रीतेश देशमुख और जेनेलिया से अमिताभ बच्चन ने जो कुछ कराया उसने कपिल शर्मा के फूहड़ कामेडी शो को भी मात दे दी.इसमे बच्चन जी पूरे समय रीतेश को सर संबोधित करते रहे,पर उसने एक बार भी नहीं कहा की आप मुझे सर कह कर क्यों शर्मिंदा कर रहे हैं.

KBC

विनम्रता बड़ा गुण है लेकिन जूनियर को सर कह बच्चन ने इस शब्द की गरिमा ही गिराई है.रीतेश पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय विलासराव देशमुख के बेटे है.!बच्चन ने उनसे रोमांटिक सीन करने को कहा तो रीतेश ने तुझको बनाया गया है मेरे लिए, जहाँ तुम खड़ी हो लाइन वहीं से शुरू होती है और रिश्ते मे हम तुम्हारे पति लगते हैं,को दोहरा दिया.

KBC

एक शुक्रवार दीपिका पादुकोण और फरहा आईं तो तीनो एक दूसरे की तारीफ मे मशगूल रहे.जैकी श्राफ और सुनील शेट्टी को क्यों पेश किया गया यह समझ से परे है. बचाव मे बच्चन कह सकते हैं की वो तो महज सूत्रधार हैं और निदेशक के कहने पर चलते हैं पर उनका कद देखते हुए इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता.

Also Read: अब पुराने स्क्रैप चार पहिया वाहन का नंबर नये वाहन के लिए ले सकेंगे वाहनस्वामी