Gambling : टार्च की रोशनी में जुआ खेलते पकड़ाए

जुआरियों में रायसेन जिले में पदस्थ आबकारी उप निरीक्षक भी हाथ आया  

643

Chattarpur : पुलिस ने जुए के फड़ पर दबिश देकर मोबाईल टार्च की रोशनी में 9 आरोपियों को जुआ खेलते गिरफ्तार किया। इनके पास से 14,910 रुपए सहित ताश की गड्डी बरामद हुई। पकड़ाए जुआरियों में रायसेन जिले में पदस्थ एक आबकारी उप निरीक्षक भी हैं। सभी जुआरियों के खिलाफ 13 जुआ एक्ट का मामला दर्ज कर विवेचना में लिया गया है।
सिविल लाइन थाना प्रभारी पुष्पेंद्र मिश्रा ने बताया कि सूचना मिली थी कि चंद्रपुरा गांव में कुछ जुआरी रोड और मोबाइल लाइट के उजाले में जुआ खेल रहे हैं और ताश के पत्तों रुपए पैसों का दाव लगा रहे हैं। सूचना पर पुलिस बल चंद्रपुर रवाना हुआ। जहां पहुंचकर देखा कि कुछ व्यक्ति रोड लाइट की रोशनी में ताश पत्तों से रुपए पैसों का दाव लगाकर हार जीत का जुआ खेल रहे हैं। जिन्हें पुलिस बल की मदद से घेराबंदी कर पकड़ा गया।
पकड़े गए जुआरियों में कुछ बड़े नाम भी सामने आए हैं जिनमें से जो एक नाम सामने आया है वह शरद मिश्रा का है, जो रायसेन जिले में आबकारी विभाग में उप निरीक्षक के पद पर पदस्थ हैं। पुलिस ने इन्हें भी जुआ खेलते गिरफ्तार किया। इन पर भी 13 जुआ एक्ट का मामला दर्ज हुआ है।
जुआरियों का नाम पता पूछने पर लखन लाल पिता बैजनाथ दुबे, रूपचंद पिता रामचरण, संदीप पिता काशीराम, रोहित शर्मा पिता कुंजबिहारी, भूरा पिता मनोरा, राजा बाबू पिता जानकी प्रसाद अहिरवार, जितेंद्र यादव पिता बृजेंद्र सिंह यादव, हरि शंकर पिता काली दिन चौरसिया, शरद मिश्रा पिता शारदा मिश्रा निवासी चंद्रपुर का होना बताया। जब्ती कार्रवाई कर उक्त आरोपियों के विरुद्ध अपराध धारा 13 जुआ एक्ट का मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। वहीं सभी जुआरियों को थाने से ही जमानत पर रिहा कर दिया गया है।