इटली में कोरोना वायरस से एक दिन में रिकॉर्ड 743 लोगों की मौत, दुनिया के 2.6 अरब लोग लॉकडाउन

इटली में कोरोना वायरस से एक दिन में रिकॉर्ड 743 लोगों की मौत, दुनिया के 2.6 अरब लोग लॉकडाउन

मीडियावाला.इन।

रोम. इटली  में कोरोना वायरस से मंगलवार को 743 लोगों की मौत हुई. इसके साथ ही दो दिनों से मृतकों के आंकड़ों में कमी से महामारी पर काबू पाने की उम्मीद को भी झटका लगा है.

इटली में कोरोना वायरस की महामारी शुरू होने के बाद से मंगलवार को दूसरा ऐसा दिन है जब सबसे अधिक मौतें हुई है लेकिन नागरिक सुरक्षा एजेंसी ने कहा है कि सोमवार को आए नये मामलों के आधार पर ऐसा लग रहा है कि संक्रमण दर घट रही है.

दुनिया भर में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण मृतक संख्या 16,961 पर पहुंच गई. एएफपी ने आधिकारिक सूत्रों से ये आंकड़े जुटाए हैं जो मंगलवार को जारी किए गए. कोरोना वायरस का पहला मामला चीन में पिछले वर्ष दिसंबर में सामने आया था, तब से 175 देशों में 3,86,350 से अधिक मामलों की पुष्टि हुई.

स्पेन से सामने आया दिल दहला देने वाला मामला वहीं कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच स्पेन में दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. अस्पतालों को संक्रमण मुक्त करने लिए गए सैनिकों ने लोगों को गंदगी और उन संक्रमित शवों के बीच रहते पाया जिनके बारे में संदेह है कि उनकी मौत कोरोनो वायरस से हुई है. इस संबंध में न्यायिक जांच शुरू कर दी गई है.

रक्षा मंत्री मार्गरिटा रोबल्स ने बताया कि बुजुर्ग लोगों को 'पूरी तरह से'खुद के हवाले छोड़ दिया गया या कुछ को अपने बिस्तरों पर मृत छोड़ दिया गया. उन्होंने कहा कि कई नर्सिंग होम मिले हैं और कई शव मिले हैं. हालांकि, उन्होंने इस बारे में जानकारी नहीं दी कि ये अस्पताल कहां हैं और कितने शव मिले हैं.

स्पेन में मंगलवार को 6,584 नए संक्रमण के रिकॉर्ड मामले सामने आए हैं और कुल संक्रमित लोगों की संख्या 39,673 पहुंच गई है. वहीं, मृतकों की संख्या 2,696 पहुंच गई. स्पेन की राजधानी में ही अब तक 1,535 लोगों की मौत हो चुकी है. स्पेन के स्वास्थ्य आपात केंद्र के प्रमुख फर्नान्डो सिमोन ने कहा, '' यह एक कठिन सप्ताह है.'' उन्होंने बताया कि अब तक 5,400 स्वास्थ्यकर्मी इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं.

पूरी दुनिया के 2.6 अरब लोग लॉकडाउन में
भारत द्वारा कोरोना वायरस से लड़ने के लिए लॉकडाउन उपायों को लागू किए जाने के साथ ही पूरी दुनिया की 2.6 अरब से अधिक आबादी प्रतिबंधों के दायरे में आ गयी है. संयुक्त राष्ट्र के अनुसार साल 2020 में विश्व की आबादी 7.8 अरब है और विश्वभर में लॉकडाउन होने के बाद 2.6 अरब से अधिक आबादी अपने अपने घरों में कैद हो गई है. ब्रिटेन, फ्रांस, इटली और स्पेन, अमेरिका के कोलंबिया, नेपाल, इराक और मेडागास्कर समेत विश्व के करीब 42 देशों में लॉकडाउन शुरू हो चुका है.

भारत और न्यूजीलैंड इस सूची में शामिल होने वाले सबसे नए देश हैं. इन अधिकतर देशों में लोग अभी भी काम पर जाने, भोजन या जरूरत का अन्य सामाान खरीदने या डाक्टरों के पास जाने के लिए घरों से बाहर निकल रहे हैं.

Dailyhunt

0 comments      

Add Comment