LIFE LOGISTICS: त्योहारों का सीजन: कुछ बातों का रखना होगा ध्यान

612

LIFE LOGISTICS: त्योहारों का सीजन: कुछ बातों का रखना होगा ध्यान

भारत में इन दिनों सबसे ज्यादा त्योहार मनाए जाते हैं। कभी छठ पूजा, करवा चौथ, दशहरा दिवाली अलग-अलग समाज के अलग-अलग कई धार्मिक सामाजिक कार्यक्रम होते हैं। त्योहार खुशियों के लिए है और भारत में सबसे अच्छी बात यह है कि गरीब अमीर छोटा बड़ा हर व्यक्ति इन त्यौहारों को बड़े मजे से मनाता है। मानो यह एक तरह से आपको खुश रहने का मौका होता है।

परंतु इन सब त्योहारों के पीछे हमें कुछ बातों पर ध्यान देना चाहिए। सबसे पहली बात किसी की भी देखा देखी त्यौहार मनाने का न सोचे। अपनी खर्च सीमा के अंदर एक बजट बनाकर इसे मनाएं। इन दिनों विज्ञापनों में बड़े बड़े ऑफर आते हैं, आप सिर्फ उतने ही खरीदी करें जितनी आपको आवश्यकता है।

कर्ज लेकर या ज्यादा कर्ज लेकर कुछ खर्चा ना करें। कोशिश करें और अपनी बचत को पूरी खत्म ना होने दें। खुशियां मनाने के लिए जरूरी नहीं है कि हम बिना वजह महंगे खर्च करें। खानपान पर भी विशेष ध्यान दें।

जहां तक हो सके घर का बनाया हुआ ज्यादा से ज्यादा वापरे। इन दिनों बाजार में मिठाई और दूसरी चीजें मिलावटी बहुत बिकती है। अपने घर का डेकोरेशन स्वयं करें। अपने स्वयं का श्रंगार खुद ही करें। परिवार में आपसी तालमेल रखें। आस पड़ोसी से मधुरता रखें। त्योहार आएंगे और चले जाएंगे पर आपने ध्यान पूर्वक खर्च नहीं किया तो बाद में आने वाली परेशानी आप को ही भुगतना है।

और सबसे अहम बात अपने आप को छोटा निर्धन या बड़ा पैसे वाला, ऐसा कुछ ना समझे, आपके मन की शांति ही आप की अमीरी है, उसे कायम रखें। शांति सबुरी और संतोष यह वह गहने हैं जिसने अपनाये उसकी सुंदरता को कोई नहीं रोक सकता।

अशोक मेहता, इंदौर (लेखक, पत्रकार, पर्यावरणविद्)

Author profile
IMG 20210701 WA0022 2
अशोक मेहता

इंदौर (लेखक, पत्रकार, पर्यावरणविद्)