UP में शिवसेना सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, कांग्रेस से गठबंधन के आसार

158
UP

मुंबई: उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा के लिए नई मुश्किल खड़ी हो गई! महाराष्ट्र की सत्ता में काबिज शिवसेना ने उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने का एलान कर दिया। शिवसेना ने कहा कि वह उत्तरप्रदेश की सभी 403 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े करेगी। शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी अपने दम पर ही UP की सभी विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। पार्टी ने गोआ विधानसभा चुनाव में भी 20 सीटों पर चुनाव लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने इन चुनावों में किसी पार्टी से गठबंधन से भी इंकार नहीं किया। इसलिए माना जा रहा है कि वो कांग्रेस के साथ मिलकर उत्तर प्रदेश और गोआ का चुनाव लड़ेगी।
उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इस राज्य की सत्ता पर काबिज होने के लिए सभी पार्टियों ने अभी से जोर लगाना शुरू कर दिया। UP में भाजपा को सबसे बड़ी चुनौती समाजवादी पार्टी से मिलने वाली है। इस बीच शिवसेना का उत्तर प्रदेश के चुनावी रण में ताल ठोकना भाजपा को परेशानी में डाल सकता है। क्योंकि, भाजपा जिस हिंदू एजेंडे पर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है, शिवसेना की वो सबसे बड़ी पहचान है। उत्तर प्रदेश में शिवसेना की मौजूदगी भाजपा के लिए सबसे बड़ा नुकसान होगा।
शिवसेना के इस ऐलान से भाजपा के लिए मुश्किल बढ़ना तय माना जा सकता है। क्योंकि, भाजपा और शिवसेना ने इस चुनाव को लेकर अभी तक किसी बड़ी पार्टी के साथ गठबंधन नहीं किया है। दोनों ही पार्टी हिंदूवादी विचारधारा वाली हैं। अगर शिवसेना अकेले ही चुनाव लड़ती है तो भाजपा की मुश्किले बढ़ेंगी। यदि वो कांग्रेस से मिलकर भी चुनाव लड़ेगी, तो भाजपा नुकसान में रहेगी। ये खबरें भी सामने आ रही हैं कि चुनाव से पहले UP में भाजपा के कई विधायक उससे टूट सकते हैं। इन सारी स्थितियों में भाजपा की मुश्किलें बढ़ने के कयास लगाए जा रहे हैं।