कुलदीप यादव ने तोड़ी चुप्पी, ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एक भी टेस्ट नहीं खिलाने पर दिया यह बयान

कुलदीप यादव ने तोड़ी चुप्पी, ऑस्ट्रेलिया दौरे पर एक भी टेस्ट नहीं खिलाने पर दिया यह बयान

मीडियावाला.इन।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) भारतीय टेस्ट टीम का हिस्सा थे. उन्हें एक भी मैच में केलने का मौका नहीं मिला. वे चारों टेस्ट में बैंच पर ही बैठे रहे जबकि इस दौरान कई खिलाड़ी चोटिल हुए थे. जसप्रीत बुमराह.,आर अश्विन, रवींद्र जडेजा जैसे बड़े खिलाड़ी चोट के चलते टीम से बाहर गए थे. ऐसे में कुलदीप यादव ही सबसे अनुभवी गेंदबाज थे लेकिन टीम मैनेजमेंट ने उनकी जगह नए खिलाड़ियों पर दांव लगाया. इनमें टी नटराजन, वाशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज जैसे खिलाड़ी शामिल थे. ब्रिस्बेन टेस्ट में भी जब कुलदीप को नहीं चुना गया था तब इस फैसले की आलोचना हुई थी. लेकिन भारत के नए गेंदबाजों ने उनकी कमी ही नहीं खलने दी और भारत ने तीन विकेट से मैच जीत लिया.

इस बारे में अब कुलदीप यादव ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने स्पोर्टस्टार से बातचीत में कहा कि ब्रिस्बेन में उन्हें लगा था कि वे टीम में आ सकते हैं. लेकिन उनका मानना है कि इस टेस्ट में उन्हें प्लेइंग इलेवन में नहीं लेने का फैसला सही था. कुलदीप ने कहा, आपको इस तरह से तैयारी करनी होती है कि जब भी मौका आए तो आप चुनौती के लिए तैयार रहे. मैं आखिरी टेस्ट तक तैयार था. हां, आखिरी टेस्ट तक चोटों की समस्या थीं और हम जानते थे कि हमारे कई खिलाड़ी उपलब्ध नहीं होंगे. लेकिन हम अपनी योजना पर डटे रहे. हम चोटों के बारे में चिंता करने के बजाए सोचा करते थे कि किस तरह फील्डिंग लगानी है या रणनीति क्या रहेगी.

कुलदीप बोले- ब्रिस्बेन में विकेट के हिसाब से हुआ फैसला

कुलदीप ने ब्रिस्बेन टेस्ट के बारे में कहा,

मेरे लक्ष्य तय थे. जब हम ब्रिस्बेन पहुंचे तो मैंने सोचा कि शायद मुझे खेलने का मौका मिल सकता है लेकिन विकेट देखने के बाद यह फैसला लिया गया कि हम चार तेज गेंदबाजों के साथ खेलेंगे. वह विकेट काफी हरा था. यह सही फैसला था.

गेंदबाजी कोच ने कहा था- तेरा टाइम आएगा

कुलदीन यादव ने कहा कि पूरे दौरे पर टीम का सपोर्ट स्टाफ उनके साथ रहा. रवि शास्त्री ने उनका काफी सहयोग किया. इसी तरह विराट कोहली ने भी सपोर्ट किया. गेंदबाजी कोच भरत अरुण के साथ उनकी काफी लंबी बात होती थी. वे हमेशा उनका उत्साह बढ़ाया करते थे. वे कहते थे कि तेरा टाइम आएगा. उन्होंने कभी भी टीम के प्लान से उन्हें अलग नहीं किया.

कुलदीप यादव अभी इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम का हिस्सा हैं. इसमें उनका खेलना तय लग रहा है.

TV9 भारतवर्ष

0 comments      

Add Comment