Text of Joy : स्कूली छात्रों को अगले सत्र से पढ़ाया जाएगा ‘आनंद’ का पाठ!

इसकी शुरुआत सीएम राइज और एक्सीलेंस स्कूलों से, मूल्यांकन का हिस्सा नहीं होगा!

391

Text of Joy : स्कूली छात्रों को अगले सत्र से पढ़ाया जाएगा ‘आनंद’ का पाठ!

Indore : नए शिक्षा सत्र में स्कूली छात्रों को सरकार आनंद का पाठ भी पढ़ाएगी। इस विषय को पाठ्यक्रम में शामिल करने का स्कूल शिक्षा विभाग ने निर्णय ले लिया है। इसे पाठ्यक्रम में शामिल करने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। बताया जा रहा है कि इसकी शुरुआत सीएम राइज स्कूल और एक्सीलेंस स्कूलों से की जाएगी।

विभागीय अधिकारियों के अनुसार 9वीं से 12वीं तक छात्रों को स्वयं की शक्ति से परिचय और परिवार, समाज व प्रकृति के साथ सामंजस्य के टिप्स समझाए जाएंगे। राज्य आनंद संस्थान और स्कूल शिक्षा विभाग ने चारों कक्षाओं का नया पाठ्यक्रम डिजाइन करने के साथ ही 500 से अधिक टीचरों को इसकी ट्रेनिंग भी दी जा रही है। इससे संबंधित सभी किताबें भी प्रकाशित की जा चुकी हैं।

बताया जा रहा है कि हर शनिवार को एक घंटे से अधिक समय तक इस नए पाठ्यक्रम की क्लास लगाई जाएगी। इसमें छात्र पर्यावरण को सहेजने और उसकी सुरक्षा करने के संबंध में भी किताबों के माध्यम से ज्ञान प्राप्त कर सकेंगे। हालांकि सूत्र बताते हैं कि इसे मूल्यांकन का हिस्सा नहीं बनाया जाएगा।