Monday, September 23, 2019
मेडिकल, इंजीनियरिंग और सीए की पढ़ाई फ्री में करना है तो सुपर-100 में बनाइए जगह

मेडिकल, इंजीनियरिंग और सीए की पढ़ाई फ्री में करना है तो सुपर-100 में बनाइए जगह

मीडियावाला.इन। इंदौर।

स्कूल शिक्षा विभाग मध्य प्रदेश के अंतर्गत सुपर 100 योजना वर्ष 2011-12 से संचालित है। इस योजना का उद्देश्य एमपी बोर्ड से कक्षा-10वीं की परीक्षा अजा-अजजा वर्ग में 75 फीसदी एवं ओबीसी और सामान्य वर्ग में 85 फीसदी अंकों के साथ पास करने वाले शासकीय स्कूलों के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों का चयन करना है । ऐसे विद्यार्थियों को कक्षा-11वीं एवं 12वीं में अध्ययन के लिए शा. उत्कृष्ट सुभाष उमावि भोपाल या शासकीय मल्हाराश्रम इंदौर में प्रवेश के साथ-साथ देश की प्रख्यात व्यावसायिक संस्थाओं के पाठ्यक्रमों जैसे इंजीनियरिंग/मेडिकल/ सीए जैसे पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए प्रतियोगी परीक्षाओं की कोचिंग देकर तैयारी कराना है। 

सुपर- 100 योजना के लाभ 

पात्र विद्यार्थियों में से चयन परीक्षा के माध्यम से चयनित विद्यार्थी को हेतु शासकीय उत्कृष्ट सुभाष उमावि भोपाल या शासकीय मल्हाराश्रम इंदौर में प्रवेश दिया जाएगा। छात्रावास और भोजन की सुविधा निशुल्क होगी। स्वयं के निजी व्यय के लिए विद्यार्थी को शैक्षणिक सत्र के 10 माह के लिए 150 रुपए प्रतिमाह भी दिए जाएंगे। इंजीनियरिंग, मेडिकल एवं सीए पाठ्यक्रमों की प्रतियोगी परीक्षा में बैठने के लिए फीस की प्रतिपूर्ति भी की जाएगी। चयनित विद्यार्थी को कक्षा-11वीं एवं 12वीं में अध्ययन के साथ-साथ प्रतियोगी परीक्षाओं की निशुल्क कोचिंग दी जाएगी। इनमें चयन होने पर इन पाठ्यक्रमों में अध्ययन का खर्च भी सरकार ही उठाएगी। एमपी बोर्ड से कक्षा-10वीं में अजा-अजजा वर्ग में 75 और शेष वर्गों में 85% से अधिक अंक हासिल करने वाले विद्यार्थी ले सकते हैं लाभ Áआवेदन 10 तक भरे जाएंगे 

28 जून को एक्सीलेंस स्कूल में होगी परीक्षा 

इंजीनियरिंग, आईआईटी, जेईई, मेडिकल और सीए की पढ़ाई करने की चाह रखने वाले विद्यार्थियों के लिए स्कूल शिक्षा विभाग की सुपर-100 योजना के संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश से कक्षा-10वीं पास करने वाले मेधावी विद्यार्थी इस योजना में चयनित होकर इन कोर्स के लिए न सिर्फ निशुल्क तैयारी कर सकते हैं, बल्कि चुने जाने पर आगे की पढ़ाई भी फ्री होगी। इसके लिए परीक्षा 28 जून को होगी। 

कक्षा-10वीं में 75 फीसदी से अधिक अंक हासिल करने वाले अजा एवं अजजा वर्ग एवं 85 फीसदी से अधिक अंक हासिल करने वाले सामान्य, ओबीसी एवं अन्य सभी वर्गों के विद्यार्थी इस परीक्षा के लिए पात्र होंगे। यह फॉर्म 10 जून तक भरे जाएंगे। सहायक संचालक डॉ. महेंद्र प्रताप तिवारी ने बताया कि विद्यार्थी के आवेदन के आधार पर प्राचार्य विद्यार्थी का आवेदन विमर्श पोर्टल पर भरेंगे। इस बार सभी पात्र विद्यार्थियों के आवेदन सीधे बोर्ड से ही भरकर आए हैं। सिर्फ विद्यार्थी और अभिभावक की सहमति लेने का काम इसमें प्राचार्य काे करना है। परीक्षा 28 जून को एक्सीलेंस स्कूल सागर में होगी।

0 comments      

Add Comment