श्री दत्त माऊली सदगुरु अण्णा महाराज संस्थान द्वारा सुप्रसिद्ध वैदिक विद्वान व ज्योतिषाचार्य पं. रामचंद्र शर्मा का सम्मान

श्री दत्त माऊली सदगुरु अण्णा महाराज संस्थान द्वारा सुप्रसिद्ध वैदिक विद्वान व ज्योतिषाचार्य पं. रामचंद्र शर्मा का सम्मान

मीडियावाला.इन।

इंदौर: इंदौर में श्री दत्त माऊली सदगुरु अण्णा महाराज संस्थान द्वारा आयोजित एक गरिमामय समारोह में सुप्रसिद्ध वैदिक विद्वान व ज्योतिषाचार्य पं. रामचंद्र शर्मा वैदिक का सम्मान किया गया। इस अवसर पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने पंडित शर्मा को सम्मान पत्र, शाल और श्रीफल भेंट कर सम्मानित किया। 

इस मौके पर श्री शर्मा ने कहा यह  मेरा नही वेद वेदांगों का सम्मान है। वेद, धर्म, ज्योतिष व आध्यात्म ये अलग अलग विषय है। इन विषयों का जितना गहन अध्ययन किया जाए उतना  ही अधिक ज्ञान व  आनंद प्राप्त होता है।  दुर्भाग्यपूर्ण है कि इन विषयों के बारे में हमारी वर्तमान युवा  पीढ़ी को अवगत कराने हेतु कोई व्यवस्था सरकार या विद्यालयों द्वारा नहीं की गई। अतः जो इन विषयों के ज्ञाता है, ऐसे में उनका समाज के प्रति दायित्व और अधिक बढ़ जाता है कि वे अपने शिष्य तैयार करें और उन्हें  इन विषयों में पारंगत बनाएं।

यह भी पढ़ें: दैनिक भास्कर समूह के विभिन्न ठिकानों पर इनकम टैक्स की छापामार कार्यवाही

ज्ञातव्य है कि श्री दत्त माऊली सदगुरु अण्णा महाराज संस्थान ,इन्दोर में गुरु पूर्णिमा के अवसर पर प्रतिभा सम्मान समारोह प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है, जिसमें सामाजिक, आध्यात्मिक और धार्मिक क्षेत्र में सर्व श्रेष्ठ कार्य करने वाले अतिविशिष्ठ विद्वानों को सम्मानित किया जाता है। इसी शृंखला में  इस वर्ष इंदौर शहर के सुप्रसिद्ध  वेदविद, सुविख्यात ज्योतिषी एवम धर्मशास्त्रीय विषयों के आचार्य पण्डित रामचंद्र शर्मा वैदिक को सदगुरु अण्णा महाराज और अतिथियों सर्वश्री कैलाश विजयवर्गीय (राष्ट्रीय महामंत्री भाजपा),सांसद श्री शंकर लालवानी व भाजपा शहर अध्यक्ष श्री गौरव रणदिवे ने शॉल, श्रीफल और अभिनन्दन पत्र भेंट कर आचार्य शर्मा वैदिक को अभिनन्दित  किया। कोविड प्रोटोकॉल के कारण समारोह संक्षिप्त और सीमित संख्या में उपस्थिति के साथ सादगी से सम्पन्न हुआ।

यह भी पढ़ें: MLA रामबाई और पति गोविन्द सिंह को सुप्रीम कोर्ट का झटका,जमानत याचिका खारिज, हटा सेशन जज द्वारा लगाए आरोपों की जांच करने के HC को दिए निर्देश

सम्मान समारोह के अवसर पर दत्त माउली संस्थान के सदगुरुदेव श्री अण्णा महाराज ने  कहा कि आचार्य रामचंद्र शर्मा  जैसे  वेदिक विद्वान की उपस्थिति मात्र से सम्पूर्ण वातावरण सकारात्मक और आध्यात्मिक ऊर्जा से सराबोर हो जाता है। आचार्य श्री शर्मा वैदिक के श्रीमुख से निकलने वाली वेदवाणी अद्भुत ऊर्जा का संचार कर प्रफुल्लित करती है। महाराज श्री ने कहा कि यह सब वेदों और धार्मिक ग्रंथों के निरन्तर पठन पाठन और स्वाध्याय का ही प्रतिफल है जो आचार्यश्री  को प्राप्त हो सका है। यदि प्रत्येक हिन्दू वेदों में  लिखे कुछ अंश को भी आत्मसात कर लेता है तो देश मे आध्यात्मिक और सकारात्मक ऊर्जा का असीमित संचार होगा जिसके कारण  निःसन्देह हम पुनः विश्व गुरु बन  सकेंगे।

इस अवसर पर संस्थान द्वारा शिक्षा कुम्भ के माध्यम से एकत्रित धनराशि का वितरण जरूरतमंद विद्यार्थियों को किया गया । RB

0 comments      

Add Comment