नाम वापसी के बाद चुनावी तस्वीर हुई साफ, चुनाव चिन्ह आवंटन के साथ बढा चुनावी शोर

59
nagar_palika_election

भोपाल: प्रदेश के नगरीय निकायों के चुनाव में आज नाम वापसी के बाद मैदान में शेष रह गए उम्मीदवारों की तस्वीर साफ हो गई है। नाम वापसी के बाद मैदान में शेष रह गए सभी उम्मीदवारों को चुनाव चिन्हों का आवंटन भी कर दिया गया। इसके साथ ही उम्मीदवारों का चुनाव प्रचार और चुनावी शोर आज से बढ़ गया है।

प्रदेश में नाम वापसी के पहले महापौर पद के 175 और पार्षद पद के 33 हजार 683 उम्मीदवार मैदान में शेष थे। कांग्रेस और भाजपा के अधिकृत प्रत्याशियों और पार्टी पदाधिकारियों की मान-मनऊअल के बाद इनमें से सैकड़ों उम्मीदवारों ने बुधवार को नामांकन पत्र वापस ले लिए। नाम वापसी के लिए प्रकिया जारी है। शाम तक मैदान में शेष रह गए उम्मीदवारों की तस्वीर साफ हो जाएगी। नाम वापसी के बाद भाजपा, कांग्रेस सहित मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों और अन्य राजनीतिक दल तथा निर्दलीय उम्मीदवारों को प्रतीक चिन्ह आवंटित कर दिए जाएंगे। चुनाव चिन्ह मिलने के बाद महापौर और पार्षद पद के लिए चुनाव प्रचार और तेज हो गया। गली-मोहल्लों में प्रचार वाहन, चुनावी भोपुओं का कोलाहल बढ़ गया।

दो चरणों में मतदान 6 और 13 जुलाई को-
जो उम्मीदवार अंतिम रुप से चुनाव मैदान में शेष रह गए है उनमें से उपयुक्त उम्मीदवार के चयन के लिए दो चरणों में मतदान होगा। पहले चरण का मतदान छह जुलाई बुधवार को और दूसरे चरण का मतदान 13 जुलाई को होगा। मतदान सुबह सात से दोपहर पांच बजे तक होगा। प्रदेश के सोलह नगर निगम, 99 नगर पालिका और 298 नगर परिषदों में से 321 निकायों में जहां कार्यकाल पूरा हो चुका है वहां के लिए और नवगठित 35 निकायों में से 29 नगर परिषदों के अर्थात कुल 347 नगरीय निकायों के निर्वाचन कराए जा रहे है। सोलह नगर निगमों में महापौर के सोलह और पार्षदों के 6 हजार 507 पदोंं के लिए चुनाव कराए जाएंगे।