Blog

विजय कुमार दास

  वरिष्ठ पत्रकार श्री विजय दास राष्ट्रीय हिंदी मेल  समाचार प त्र के  प्रधान सम्पादक है .साथ ही पत्रकारिता के सुदीर्घ अनुभवी श्री दास सेन्ट्रल पत्रकार क्लब के संस्थापक है .

हरियाणा में बसें बन गई चलित अस्पताल तो ‘मध्य’ प्रदेश में कब...?

हरियाणा में बसें बन गई चलित अस्पताल तो ‘मध्य’ प्रदेश में कब...?

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण सरकारी दावों के हिसाब से कम हो रहा है, यकीन करना इसलिए जरूरी है, क्योंकि ऐसा कोई स्रोत नहीं, जो यह बता सकें कि कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है, या...

कोविड में लगे 3 लाख शासकीय कर्मचारी, लेकिन एक लाख पुलिस कर्मियों को सलाम...

कोविड में लगे 3 लाख शासकीय कर्मचारी, लेकिन एक लाख पुलिस कर्मियों को सलाम...

मीडियावाला.इन। विजय कुमार दास की विशेष रिपोर्ट भोपाल: मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमण को लेकर जो हाहाकार मचा है, उससे त्राहिमाम-त्राहिमाम केवल आम जनता ही नहीं बल्कि यूं कहा जाएं कि इस भयावह महामारी से जूझने वाले साढ़े तीन...

सरकार का हर जिम्मेदार गांव का भी बने पहरेदार,60 हजार बसों को एम्बुलेंस बनाइए

सरकार का हर जिम्मेदार गांव का भी बने पहरेदार,60 हजार बसों को एम्बुलेंस बनाइए

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में कोरोना महामारी का संक्रमणकाल कुछ अवसरवादियों के लिए अवसर तलाशने के लिए उपलब्ध हो गया है। यूं कहा जाए कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार और मध्यप्रदेश की जनता इस बड़ी आपदा से रोज दो-दो हाथ...

शिवराज 'थकिए मत' मौका मिला है, सबका जीवन बचाइए...

शिवराज 'थकिए मत' मौका मिला है, सबका जीवन बचाइए...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ दोनों राज्य कोविड-19 के बहुत बड़े शिकार हो गए हैं। ऐसी भयावह स्थिति निर्मित हो जाएगी, कोई कल्पना भी नहीं कर सकता है। मैं यह उस समय लिख रहा  हूं जब मेरे परिवार में...

हमारी नहीं तो अपने मन की बात मानिए हुजूर...

हमारी नहीं तो अपने मन की बात मानिए हुजूर...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश हो या छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र हो या दिल्ली, देश हो या विदेश, कहीं पर लोकतंत्र या फिर कहीं पर तानाशाही। मानव इतिहास के इस सबसे बुरे काल में कितने भी बड़े राजनेता हों या नौकरशाह, सब के सब...

रोंगटे खड़े हो गए यह लिखते हुए कि सरकार को हाईटेक श्मशान घाट बनाने की जरूरत...

रोंगटे खड़े हो गए यह लिखते हुए कि सरकार को हाईटेक श्मशान घाट बनाने की जरूरत...

मीडियावाला.इन। आजादी के 74 वर्षों में चाहे केन्द्र की मोदी सरकार हो या राज्य की सरकारें, उसमें पश्चिम बंगाल को छोड़कर मानव इतिहास के सबसे भयावह दौर से गुजर रहे है, माना जायेगा। हम यदि मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ राज्य...

चौथी बार चुनौती भरी सरकार...

चौथी बार चुनौती भरी सरकार...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में सब कुछ तब सम्हलकर चलाया जा रहा है, जब हम मानव इतिहास के सबसे बुरे दौर से गुजर रहे हैं। यूं कहा जाए कि जितनी आसानी से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को चौथी बार सत्ता संचालन की...

शिवराज पर दबाव गांवों में हों चुनाव

शिवराज पर दबाव गांवों में हों चुनाव

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) इन दिनों गुस्से में हैं। माफिया विरोधी अभियान में रोज-रोज कलेक्टर-एसपी से घंटों बात कर रहे हैं, परन्तु सुशासन का रास्ता निकालने में पसीने भी बहाने पड़ रहे...

महाराजा के 'धैर्य' का एक वर्ष...

महाराजा के 'धैर्य' का एक वर्ष...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश की राजनीति में दबाव और प्रभाव से दूर रहकर धैर्य की पराकाष्ठा तक इंतजार करने का उदाहरण किसी राजपुरूष में यदि जोड़ा जाएगा तो ग्वालियर सिंधिया घराने के महाराजा ज्योतिरादित्य सिंधिया का नाम ही सबसे ऊपर होगा।...

महिलाओं को 'महत्व और अवसर' पुरुषों के बराबर करके दिखाओ तो जानें...

महिलाओं को 'महत्व और अवसर' पुरुषों के बराबर करके दिखाओ तो जानें...

मीडियावाला.इन। 8 मार्च, 2021 अर्थात् अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस, विश्व में तथा भारत में महिलाओं के अधिकार और महत्व की चर्चा टीवी चैनलों में पूरे दिन देखने को मिलेगी। परंतु यह बात कि पुरुषों के मुकाबले में महिलाएं कितनी महत्वपूर्ण हैं,...

शिवराज पोस्टर बॉय रहेंगे, नगरीय निकाय चुनाव तय करेंगे...

शिवराज पोस्टर बॉय रहेंगे, नगरीय निकाय चुनाव तय करेंगे...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में चौथी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद शिवराज सिंह चौहान को अग्नि परीक्षा के दौर से गुजरना होगा। अग्नि परीक्षा इस बात की नहीं है कि वे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कब तक रहते हैं, अग्नि परीक्षा इस...

3 लाख करोड़ के ऊपर आज पेश होगा मध्यप्रदेश विधानसभा में पहला  डिजिटल बजट

3 लाख करोड़ के ऊपर आज पेश होगा मध्यप्रदेश विधानसभा में पहला डिजिटल बजट

मीडियावाला.इन। *विजय कुमार दास की विशेष रिपोर्ट* भोपाल; आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश और किसानों की हिस्सेदारी तथा गरीबों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए मध्यप्रदेश के बजट में कर्मचारी वर्ग तथा 88 लाख बेरोजगारों को रोजगार से जोडऩे या...

रेरा को चाहिये मनोज श्रीवास्तव...

रेरा को चाहिये मनोज श्रीवास्तव...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में जब भी कोई ईमानदार नौकरशाह रिटायरमेंट के नजदीक होता है तो सरकार उसकी ताजपोशी के लिये राजनीतिक विचारधारा के जुड़ाव से लेकर प्रशासनिक दक्षता की भूमिका पर काम शुरू कर देती है। इसके चलते अप्रैल 2021 में...

विडम्बना देखिए मोदी के देश में आंदोलन बड़ा-‘किसान’ छोटा हो गया...

विडम्बना देखिए मोदी के देश में आंदोलन बड़ा-‘किसान’ छोटा हो गया...

मीडियावाला.इन। भारतीय लोकतंत्र में जब-जब किसान, मजदूर, नौजवान और महिलाओं के मौलिक अधिकारों का हनन हुआ, भारत जागा, उठा और लड़ा और जंग में जीता, परन्तु देश की आन, बान, शान को कभी शर्मशार नहीं होने दिया। कहने को कहा...

मनुष्यता की रक्षा का सबसे बड़ा दिन 16 जनवरी 2021 इतिहास में हो गया दर्ज

मनुष्यता की रक्षा का सबसे बड़ा दिन 16 जनवरी 2021 इतिहास में हो गया दर्ज

मीडियावाला.इन। पूरे विश्व में 2020 का वर्ष मानव इतिहास में सबसे पूरा वर्ष साबित हुआ है। इसी के चलते कोरोना महामारी और मनुष्यता के खिलाफ सबसे बड़ा संक्रमण 100 वर्षों तक यह भारत भूल नहीं पाएगा, लेकिन...

किसान आंदोलन से दूर क्यों हैं कांग्रेस की सरकारें...?

किसान आंदोलन से दूर क्यों हैं कांग्रेस की सरकारें...?

मीडियावाला.इन। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नोटबंदी के फैसले से इतनी जद्दोजहद नहीं सहनी पड़ी, जितनी उन्हें मात्र दो राज्य पंजाब और हरियाणा के किसान आंदोलन के साथ जूझना पड़ रहा है। अब तो 45 दिनों...

2020 मानव इतिहास का सबसे बुरा साल रहा, हालात बदलिए हुजूर...

2020 मानव इतिहास का सबसे बुरा साल रहा, हालात बदलिए हुजूर...

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस को इस बात का श्रेय जरूर मिलेगा कि पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ निर्णायक नहीं हो पाए और राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भाजपा की सरकार को स्थापित करने के लिए एक पल भी नहीं गंवाया। मतलब...

2020 कोरोना काल: भाजपा खुशहाल, मीडिया बेहाल, कांग्रेस फटेहाल

2020 कोरोना काल: भाजपा खुशहाल, मीडिया बेहाल, कांग्रेस फटेहाल

मीडियावाला.इन। चीन बुआन शहर से निकला कोविड-19 का कहर भारत के जन जीवन को ही प्रभावित किया है ऐसा नहीं है। कोरोना ने राजनीति और राजनीतिक दलों के साथ-साथ मीडिया को जिस दुर्दशा के मुकाम पर पहुंचाया है यह केवल...

तीन आईपीएस के खिलाफ एफआईआर होना तय परन्तु सवाल उठता है- 'ई-टेण्डर' के सामने कमलनाथ क्यों हुए थे सरेंडर...?

तीन आईपीएस के खिलाफ एफआईआर होना तय परन्तु सवाल उठता है- 'ई-टेण्डर' के सामने कमलनाथ क्यों हुए थे सरेंडर...?

मीडियावाला.इन। *विजय कुमार दास की विशेष रिपोर्ट* मध्यप्रदेश की सियासी राजनीति में और मंत्रालय से लेकर पुलिस मुख्यालय तक केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के आदेश से हड़कंप मच गया है। केन्द्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने चुनाव आयोग को...

शिव-ज्योति एक्सप्रेस का सुनामी हुआ गठजोड़, कांग्रेस में मची खलबली

शिव-ज्योति एक्सप्रेस का सुनामी हुआ गठजोड़, कांग्रेस में मची खलबली

मीडियावाला.इन। मध्यप्रदेश में 28 विधानसभा उप चुनावों के परिणामों के बाद अब इस तरह के कयासों पर विराम लग गया है कि भाजपा की शिवराज सरकार में राज्यसभा सदस्य ग्वालियर-चंबल के महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया की दखलंदाजी कम हो गई...