‘जब कलकुलेटर है तो टेबल क्यों याद करें?’ जानें इस प्रश्न पर क्या था मुकेश अंबानी का जवाब

‘जब कलकुलेटर है तो टेबल क्यों याद करें?’ जानें इस प्रश्न पर क्या था मुकेश अंबानी का जवाब

मीडियावाला.इन।

भारत के सबसे अमीर आदमी मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी ना केवल अपने बिजनेस सेंस के लिए चर्चा में रहते हैं बल्कि अपनी पैरेंटिंग स्टाइल पर भी कई सुर्खियों में रहते हैं. सादा जीवन जीने वाले मुकेश अंबानी ने अपने तीनों बच्चों को कभी भी इस बात का अहसास नहीं होने दिया कि उनके पास इतना पैसा है.

अंबानी दंपति ये बात कई बार टीवी इंटरव्यूज में सभी के सामने बता चुके हैं. बच्चों की परवरिश को लेकर मुकेश अंबानी की सोच जानकर सभी उनके फेन हो जाएंगे.

हिन्दुस्तान टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में मुकेश अंबानी ने कहा था कि बच्चों में पढाई से हटकर भी कुछ एक्स्ट्रा होना चाहिए.


मुकेश अंबानी उनके तीनों बच्चे इस बात को अच्छे से  जानते थे और वह कभी टॉपर नहीं रहे हालाँकि उनके फंडामेंटल्स हमेशा क्लियर रहे हैं.

इंटरव्यू में मुकेश अंबानी ने एक मज़ेदार वाकया सुनाया था. दरअसल उनके बड़े बेटे आकाश ने एक दिन उनसे पूछा कि पापा जब कलकुलेटर है तो हम टेबल क्यों याद करते हैं?

मुकेश अंबानी ने आकाश के प्रश्न का मजेदार जवाब देते हुए कहा था कि बेटा हम याद इसलिए करते हैं कि सबकुछ हमारे दिमाग में ही सेट हो जाए.

पिता मुकेश अंबानी की समझाई गई बात का बेटे आकाश पर इतना प्रभाव पड़ा कि वह प्रत्येक रात सोने से पहले सभी टेबल्स, मल्टिप्लिकेशन औऱ डिविजन याद करके सोने लगा.

मुकेश अंबानी और नीता अंबानी अकसर बच्चों को पढ़ाई का महत्व समझाने के लिए उन्ही के साथ पढाई करने के लिए बैठ जाया करते थे.

Rashtravaditimes.com

RB

 
0 comments      

Add Comment