मंदसौर के डॉ. स्वप्निल मिश्रा को इंटरनेशनल एनयूएस प्रेसिडेंशियल यंग प्रोफेसरशिप पुरस्कार मिला  

मंदसौर क्षेत्र में गौरव पूर्ण उपलब्धि पर बधाई का तांता

1830

मंदसौर के डॉ. स्वप्निल मिश्रा को इंटरनेशनल एनयूएस प्रेसिडेंशियल यंग प्रोफेसरशिप पुरस्कार मिला  

मंदसौर से डॉ घनश्याम बटवाल की रिपोर्ट

मंदसौर । नगर के युवा डॉ. स्वप्निल मिश्रा को सिंगापुर में एनयूएस प्रेसिडेंशियल यंग प्रोफेसरशिप (PYP) पुरस्कार से सम्मानित किए जाने और उन्हें सॉ स्वी हॉक स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ (SSHSPH) में पहले प्रेसिडेंशियल यंग प्रोफेसर बनने पर हर्ष व्याप्त हैं ।

उल्लेखनीय है कि प्रतिष्ठित प्रेसिडेंशियल यंग

प्रोफेसरशिप ( PYP ) पुरस्कार विश्वविद्यालय को सबसे प्रतिभाशाली और होनहार प्रारंभिक केरियर शिक्षाविदों को आकर्षित करने और उच्च मानक बनाए रखने में मदद करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जो उन्हें विश्व स्तरीय विद्वानों के रूप में विकसित करने में सक्षम बनाता है।

इस कसौटी पर डॉ स्वप्निल मिश्र ने इंटरनेशनल स्तर पर मेरिट में सफलता प्राप्त की है ।

IMG 20240531 WA0000

डॉ. स्वप्निल मिश्रा 2023 में एनयूएस में शामिल हुए और वर्तमान में एसएसएचएसपीएच (प्राथमिक), डेटा विज्ञान संस्थान (संयुक्त) और सांख्यिकी और डेटा विज्ञान विभाग, विज्ञान संकाय (संयुक्त) में सहायक प्रोफेसर हैं; वह सिंगापुर नेशनल रिसर्च फाउंडेशन (NRF) फेलो (2023 की कक्षा) भी हैं। उन्होंने ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी (ANU) से कम्प्यूटेशनल सोशल साइंस (2019) में पीएचडी और मशीन लर्निंग (2014) में एमएससी पूरी की है । ऑस्ट्रेलिया नेशनल यूनिवर्सिटी में पीएचडी छात्र के रूप में, उन्हें कई अन्य अनुदानों और पुरस्कारों के अलावा एएनयू घरेलू पीएचडी छात्रवृत्ति से सम्मानित किया गया था।

डॉ मिश्रा ने इससे पहले, भारत के शीर्ष विश्वविद्यालयों में से एक, महाराष्ट्र के पुणे विश्वविद्यालय में अध्ययन किया।

डॉ. मिश्रा की विशेषज्ञता विभिन्न स्पेटियोटेम्पोरल डेटा को समझने के लिए लचीले और स्केलेबल मॉडल विकसित करने में निहित है। उनका शोध कई क्षेत्रों तक फैला हुआ है, जिसमें कोविड-19, मलेरिया और एचआईवी जैसी महामारी के साथ-साथ अपराध और सोशल मीडिया विश्लेषण भी शामिल है। उनका काम शास्त्रीय मशीन लर्निंग तकनीकों और आधुनिक गहन शिक्षण नेटवर्क दोनों का उपयोग करके बिंदु प्रक्रियाओं को मॉडल करने के लिए एल्गोरिदम पर केंद्रित है।

IMG 20240531 WA0001

विशेष रूप से, डॉ. मिश्रा ने अपने शोध के माध्यम से COVID-19 महामारी के दौरान सरकारी प्रतिक्रियाओं को सूचित करने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है। कोरोना संक्रमण काल में अंतरराष्ट्रीय स्तर के वैज्ञानिकों के साथ तथ्यात्मक कार्य कर रिपोर्ट प्रस्तुत की जो मान्य हुई ।

मंदसौर में प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त कर आज अंतरराष्ट्रीय स्तर की विशिष्ट ऊंचाई पर पहुंचे डॉ. स्वप्निल मिश्रा को ऐसी प्रतिष्ठित मान्यता प्राप्त करने के लिए हार्दिक बधाई देना चाहते हैं ।

सिंगहेल्थ एकेडमी की रिपोर्ट में कहा गया है कि डॉ. स्वप्निल मिश्रा की उपलब्धि हमारे संस्थान में एक उल्लेखनीय मिसाल कायम करती है, जो साथियों और स्टूडेंट्स को उत्कृष्टता के लिए प्रयास करने और अपने संबंधित क्षेत्रों में नई ऊंचाइयों तक पहुंचने के लिए प्रेरित करती है।

 

मालवा अंचल के वरिष्ठ चिकित्सक , दशपुर रत्न से सम्मानित

डॉ विजयशंकर मिश्र के ज्येष्ठ सुपुत्र डॉ स्वप्निल ने मंदसौर का गौरव बढ़ाया है । वर्तमान सिंगापुर में सेवाएं देने के साथ अपने साइंटिफिक मॉड्यूल प्रेजेंटेशन , इम्लीमेंटेशन , टीचिंग एंड टेक्निक के साथ लागू करने के संदर्भ में अमेरिका , कनाडा , फ्रांस , अफ्रीका आदि देशों में प्रस्तुत कर उपलब्धि हांसिल की है ।

डॉ स्वप्निल मिश्रा के अनुसार जून 18 से 30 तक वियतनाम उसके बाद चीन जाएंगे । अपने साइंटिफिक मॉड्यूल प्रेजेंटेशन करेंगे । आर्टिफिशियल इंटीलेजन्स ( AI ) के माध्यम से सिंगापुर सिक्युरिटी एप विकसित किया है । सिंगापुर गवर्नमेंट ने एप को स्वीकार कर लागू किया है ।

इंफोसिस में सिस्टम इंजीनियर रहे डॉ मिश्रा ने कैनबरा से एम एस किया , लंदन के इम्पीरियल कॉलेज में अध्ययन किया , कोपेनहेगन डेनमार्क में पढ़ाई की ,ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी में आर्टिफिशियल इंटीलेजन्स में डिग्री हांसिल कर मंदसौर का होनहार युवा विश्व के कई देशों में अपने गुणवत्तापूर्ण ज्ञान से मानवता के हितों में सफलता पूर्वक प्रयोग कर रहा है ।

डॉ स्वप्निल के अनुज भ्राता डॉ हर्ष मिश्रा भी कॉर्डियोलॉजी में डीएम हैं और मुंबई के प्रतिष्ठित कोकिला बेन हॉस्पिटल में सेवाएं दे रहे हैं ।

डॉ स्वप्निल की अंतरराष्ट्रीय उपलब्धि पर विभिन्न क्षेत्रों के गणमान्य ने बधाई और शुभकामनाएं दी हैं ।

उपमुख्यमंत्री जगदीश देवड़ा , राज्यसभा सांसद बंशीलाल गुर्जर , लोकसभा सांसद सुधीर गुप्ता , पूर्व मंत्री नरेंद्र नाहटा , विधायक विपिन जैन , सेंट थॉमस स्कूल फ़ादर लौरेंस ,

जनपरिषद स्टेट जॉइन्ट सेक्रेटरी डॉ घनश्याम बटवाल , पूर्व विधायक यशपालसिंह सिसोदिया , प्रेस क्लब अध्यक्ष ब्रजेश जोशी , म्यूज़िक कॉलेज प्रबंधन समिति अध्यक्ष नरेंद्र त्रिवेदी , पूर्व गृहमंत्री कैलाश चावला , नपाध्यक्ष रमादेवी गुर्जर , डॉ बी एस भाटी , दशपुर जागृति संगठन अध्यक्ष डॉ देवेंद्र पुराणिक , आई एम ए अध्यक्ष डॉ रमेश कनेसरिया , सी ऐ विकास भंडारी , डॉ गोविंद छापरवाल , शिवना वॉटर संस्था अध्यक्ष नरेंद्र सिंह सिपानी सहित अन्य ने बधाई देते हुए आशा व्यक्त की है कि मंदसौर के युवा डॉ स्वप्निल ओर ऊंचाई प्राप्त कर नगर और जिले का नाम रौशन करे ।