Friday, December 13, 2019
नितिन गड़करी आर्थिक आधार पर आरक्षण के लिए पार्टी को बाध्य करें - हीरालाल त्रिवेदी

नितिन गड़करी आर्थिक आधार पर आरक्षण के लिए पार्टी को बाध्य करें - हीरालाल त्रिवेदी

मीडियावाला.इन। शहडोल - सपाक्स समाज के संरक्षक श्री हीरालाल त्रिवेदी ने केंद्रीय मंत्री श्री नितिन गड़करी के उस बयान , जिसमें उन्होंने आर्थिक आधार पर आरक्षण की बात कही है, के संबंध में गड़करी से आग्रह किया कि उनके बयान की सच्चाई तभी मानी जाएगी जब वे संसद और पार्टी फोरम में इस बात को रखें । जो बात उन्होंने कही है उस पर कायम रहे और पार्टी को बाध्य करे कि वह गरीबों को आरक्षण दिलाएं।
श्री त्रिवेदी आज शहडोल में सपाक्स के सम्भागीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। 
उन्होंने कहा कि वोट के खातिर  एससीएसटी एक्ट के नए प्रावधानों को लागू कर केंद्र ने सपाक्स वर्गों के साथ अत्याचार किया है। इसका खामियाजा बीजेपी को अगले चुनाव में भुगतना पड़ेगा। श्री त्रिवेदी ने कहा कि बीजेपी को देश के समग्र हित में इस पर फिर से विचार करना चाहिए।
सम्मेलन को प्रांतीय संयोजक इंजि. पी एस परिहार, अध्यक्ष डा के एस तोमर ने भी संबोधित किया ।

  

श्री त्रिवेदी ने आगे कहा  कहा कि दलित अत्याचार का निवारण करने के लिए दलितों को सवर्णो की तरह अत्याचारी बनने की सुविधा दी जा रही है। अदालते न्याय न कर सके, उनके हाथ बांधने वाला कानून बन रहा है। और अब हमारी ‘दलितप्रेमी सरकार’ नौकरियों में सेंट परसेंट पदोन्नति दिलवाकर दलितों के थोक वोट कबाड़ने पर तुली हुई है। हमारी संसद में एक सदस्य भी ऐसा नहीं है, जो इस मसले पर सच बोलने की हिम्मत करे, प्रजातंत्र में समानता और न्याय स्थापना के लिये मुँह खोले।

डॉ के एस तोमर सपाक्स अध्यक्ष ने कहा कि पदोन्नतियों में आरक्षण मामले में 2006 में नागराज के मामले में सर्वोच्च न्यायालय ने इस मुद्दे पर फैसला दिया था कि हर अनुसूचित अफसर को पदोन्नति कैेसे दी जा सकती है ? ज्यों-ज्यों पद ऊंचे होते जाते हैं, उनकी संख्या घटती जाती है। जब तक पदों की संख्या और अनुसूचित अफसरों की संख्या का अनुपात ठीक-ठीक नहीं मालूम हो, आंख मींचकर सब की पदोन्नति कैसे की जा सकती है ? जब यही सवाल अभी अदालत ने पूछा तो सरकारी वकील ने तरह-तरह के बहाने गिना दिए। दिल्ली में सरकार किसी की हो, कांग्रेस की हो या भाजपा की, वह वोट की गुलाम होती है। वोट पाने के लिए वह सब कुछ कर सकती है।

इस अवसर पर सपाक्स समाज के प्रदेश संयोजक पी एस परिहार, युवा अध्यक्ष अभिषेक सोनी, युवा उपाध्यक्ष प्रसंग परिहार, स्थानीय समाज के प्रतिनिधि जितेन्द्र सिंह, लक्ष्मण गुप्ता, संतोष श्रीवास्तव, आनंद अग्रवाल, वी के मिश्रा, आदि ने भी संबोधित किया।

0 comments      

Add Comment