Story of Crickter Sarfaraz’s Father:कहानी सरफराज खान के पिता के जैकेट की ,जिस पर मचा था बवाल

1307

    Story of Crickter Sarfaraz’s Father:कहानी सरफराज खान के पिता के जैकेट की ,जिस पर मचा था बवाल

सरफराज खान का टीम इंडिया तक का सफर आसान नहीं रहा है. सरफराज ने यहां तक पहुंचने के लिए लंबी और काफी कठिन राह तय की है. सरफराज के यहां तक के सफर में उनके पिता का अहम् रोल है . राजकोट में भारत और इंग्लैंड के बीच खेले सीरीज के तीसरे टेस्ट में सरफराज खान का डेब्यू हुआ. वो टीम इंडिया के खिलाड़ी नंबर 311 बने. इस उपलब्धि को हासिल कर सरफराज तो सुर्खियों में आ गए लेकिन साथ ही साथ उनके पिता भी खबरों में छा गए.सरफराज ने अपनी पारी में 9 चौके और एक सिक्स लगाया. सरफराज साथी बल्लेबाज रवींद्र जडेजा के साथ गलतफहमी की वजह से रन-आउट हुए.

Business Tycoon Anand Mahindara: सरफराज खान के पिता को देख भावुक हुए , थार कार गिफ्ट करने की कही बात 

Sarfaraz Khan and Naushad Khan: खुद नहीं खेल पाए इंटरनेशनल क्रिकेट, दो बेटों को टीम इंडिया के लिए तैयार किया... सरफराज खान के पिता नौशाद की कहानी - ind vs eng 3rd

सरफराज खान के पिता यानी नौशाद खान, जो अपने बेटे को टेस्ट डेब्यू करते देख भावुक हो उठे थे. लेकिन, वो इमोशनल लम्हा जैसे ही बीता, वो जैकेट इंटरनेट पर वायरल हो गया, जो सरफराज के पिता ने पहन रखा था.

जैकेट को लेकर राजकोट टेस्ट के पहले दिन बवाल मच गया था. सवाल है आखिर उस जैकेट में ऐसा क्या था, जिसके चलते वो वायरल हुआ? तो इसके पीछे की वजह था उस जैकेट के पीछे लिखा वो वाक्य, जो चुभने वाला था. जिसे पढ़कर लोग यही समझ रहे थे कि ये कहीं BCCI पर साधा गया निशाना तो नहीं. बहरहाल, अब उस जैकेट की पूरी कहानी या यूं कहें कि हकीकत सामने आ चुकी है.

सरफराज के पिता के जैकेट का राज खुला!

सबसे पहले तो ये जान लीजिए कि जैकेट पर लिखा क्या था? सरफराज के पिता नौशाद खान ने जो जैकेट पहन रखा था, उसके पीछे जो लिखा था, उसका मतलब ये था कि क्रिकेट जेंटलमैन गेम नहीं बल्कि एवरीवन यानी सभी का गेम है. तब तो इसे लेकर बवाल सा मचा लेकिन अब खुद सरफराज के पिता ने ही इस जैकेट के पीछे की कहानी बताई.

नौशाद खान ने खुद बयां की जैकेट की सारी कहानी

नौशाद खान ने एक इंटरव्यू में जो बताया उसके मुताबिक वो जैकेट उन्होंने खास तौर पर सरफराज खान के टेस्ट डेब्यू के लिए नहीं खरीदा था. बल्कि, इससे पहले ही जब वो अपने छोटे बेटे मुशीर खान का अंडर 19 वर्ल्ड कप मैच देखने जा रहे थे, तभी खरीदा था. उन्होंने बताया कि सरफराज का PUMA से करार है तो थोड़ी-बहुत शॉपिंग हो जाती है. उनके मुताबिक जब वो छोटे बेटे मुशीर का मैच देखने जाने लगे तो उसने ही उन्हें कुछ कपड़े खरीदने की सलाह दी. और, उन्होंने वो जैकेट खरीदा.

सरफराज खान के पिता के मुताबिक उस जैकेट पर जो लिखा था वो सही भी है. क्रिकेट अब सबका गेम है. आईपीएल ने इसे घर क्या हर घर की किचन में भी पहुंचा दिया है. उनके मुताबिक औरतें 8 बजे से पहले खाना बना लेती हैं ताकि आईपीएल मैच देख सकें.

मतलब, ये कि नौशाद खान के उस जैकेट के पीछे BCCI पर निशाना साधने जैसा कुछ नहीं था. जहां तक राजकोट टेस्ट में डेब्यू करते हुए सरफराज के परफॉर्मेन्स की बात रही, उसने दोनों पारियों में अर्धशतक लगाया और ऐसा करने वाला चौथा भारतीय बना.

Domestic Violence Video Viral: क्रिकेट एक्सपर्ट की शर्मनाक हरकत, लाइव शो में पत्नी को दौड़ा मारने