राजस्थान का रण: सभी दलों दिग्गज नेताओं की यात्राएँ, जादूगरजी, कोनी मिले वोटजी- PM मोदी

जनता अपनी जादूगरी और भाजपा को आइना दिखा कांग्रेस सरकार को रीपिट करेगी -गहलोत

281

राजस्थान का रण: सभी दलों दिग्गज नेताओं की यात्राएँ, जादूगरजी, कोनी मिले वोटजी- PM मोदी

गोपेंद्र नाथ भट्ट की खास रिपोर्ट

राजस्थान विधानसभा के चुनाव अब सिर पर है और मतदान में कुछ ही दिन बाकी रह गए हैं। ऐसे में सभी राजनीतिक दलों की ओर से चुनाव में जीत के लिए ऐड़ी चोटी का जोर और दम लगाया जा रहा है। भाजपा और कांग्रेस सहित अन्य सभी राजनीतिक दलों के सभी दिग्गज केंद्रीय नेता इन दिनों अपनी-अपनी पार्टियों की मदद के लिए राजस्थान पहुंच रहे हैं।

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के कमजोर इलाक़ों को साधने के लिए पूर्वी राजस्थान के भरतपुर के डीग और पश्चिमी राजस्थान के जाटलेंड नागौर जिले के भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में दो बड़ी सभाएँ की। इसी प्रकार कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी पूर्वी राजस्थान के भरतपुर के वैर और अलवर जिले के तिजारा में विशाल सभाओं को सम्बोधित किया। इसके अलावा बहुजन समाज पार्टी बसपा की सुप्रीमो मायावती ने अलवर जिले के बानसूर में और दौसा जिले के बांदीकुई में चुनावी सभाएं कर जनता से वोट माँगें।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपनी चुनावी रेलियों में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर सबसे अधिक हमलावर रहें। उन्होंने गहलोत पर जमकर तंज कसा और कहा कि कुछ लोग यहां खुद को जादूगर कहते हैं। अब उन्हें, आज राजस्थान की जनता कह रही है कि, तीन दिसंबर को कांग्रेस छूमंतर हों रही है। मोदी ने प्रदेश के नगरीय विकास मंत्री शान्ति धारीवाल का नाम लिए बिना कहा कि गहलोत के इन अतिप्रिय मंत्री ने महिलाओं के रेप की घटनाओं पर एक निन्दनीय बयान दिया था कि राजस्थान मर्दों का प्रदेश है फिर भी न जाने किस डर से उन्हें टिकट का ईनाम दिया गया है। शायद कांग्रेस हाईकमान उनके पास भी लाल डायरी की तरह किसी और डायरी के होने से डर गया है। मोदी ने कथित लाल डायरी का नाम लेकर एक बार फिर से कांग्रेस पर हमला बोला और कहा कि उनके एक मंत्री ने ही इस डायरी में कांग्रेस के काले कारनामों का कच्चा चिट्ठा खोला है।साथ ही तंज कसा कि गहलोत के अपने पुत्र को ही अपने पिता और कांग्रेस सरकार के रीपिट होने का भरोसा नही है। इससे बड़ी बात कांग्रेस की विदाई के बारे में और क्या हो सकती है। मोदी यहाँ तक ही नही रुके और कहा कि प्रदेश के सरकारी कार्यालयों एवं निजी लौक़र्स सोना और लाखों करोड़ों रु उगल रहें है। ये कांग्रेस का पाप है जो राजस्थान के युवाओं के साथ हुआ। किसानों के साथ जो धोखा हुआ उसकी काली कमाई है। मोदी ये काली कमाई उजागर करने का काम कर रहा है तो कांग्रेस गाली दे रही है। कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे मेरे पिताजी को गाली दे रहे हैं। जिनका 40 साल पहले स्वर्गवास हो गया। उन्होंने प्रदेश में महिला अपराधों के मामलों सहित अन्य मुद्दों पर भी गहलोत सरकार पर हमला बोला और कहा कि भाजपा सरकार आते ही भ्रष्टाचार के मामलों की जाँच कर दोषियों को छोड़ा नही जाएगा मैं यह गारंटी देता हूँ ।
पीएम मोदी ने अपने संबोधन में राजस्थान भाजपा को बधाई देते हुए पार्टी के संकल्प पत्र की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भाजपा के संकल्प पत्र में किए वादों को दोहराते हुए कहा कि इन्हें पूरा करने के लिए हम जी-जान लगा देंगे। ये वादे पूरे होंगे, ये मोदी की भी गारंटी है। उन्होंने कहा आज राजस्थान कह रहा है कि जादूगर जी, कोनी मिले वोट जी (जादूगर जी, वोट नहीं मिलेगा)। मोदी ने कहा एक कहावत है कि जिस पत्तल में खाया, उसी में छेद किया। कांग्रेस ने राजस्थान के साथ ऐसा ही किया है । पीएम मोदी ने इस अवसर पर एक नया नारा भी दिया “हर तरफ एक ही गूंज है, जन जन की यही पुकार, आ रही है भाजपा सरकार।“

बीजेपी ने राजस्थान के चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है और मैदान में अपने कई दिग्गजों को उतार दिया है। इसी कड़ी में शनिवार को बीजेपी के तीन बड़े नेता पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री एवं भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे को जोधपुर और आसपास के जिलों में चुनावी सभाएँ कर चुनाव प्रचार किया।

दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि यें झूठों के सरदार और दलित विरोधी लोग हैं। भरतपुर में चुनावी सभा को संबोधित करने के दौरान उन्होंने बाड़ी से प्रत्याशी गिर्राज सिंह मलिंगा को लेकर भाजपा पर हमला बोला। खड़गे ने कहा एक दलित अधिकारी के साथ मारपीट करने वाले व्यक्ति को कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया, मैंने और राहुल गांधी ने मिलकर ये फैसला किया था। लेकिन, भाजपा ने उसे हाथों हाथ टिकट दे कर चुनाव में उतारा है ।इनकी कथनी और करनी में अन्तर है। जनता को इनसे सावधान रहना चाहिये।जन सभाओं में खड़गे के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी भाजपा पर ज़ोरदार हमला बोला और कहा कि हमारी सरकार की लोकप्रिय योजनाओं से भाजपा की नीन्द उड़ी हुई है और उन्हें हार की चिन्ता सटा रही है। गहलोत ने कहा प्रदेश की जनता इस बार भी अपनी जादूगरी और भाजपा को आइना दिखाते हुए कांग्रेस सरकार को रीपिट करेगी तथा मोदी जी को हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक विधान सभा की तरह राजस्थान में भी मुँह की खानी पड़ेगी।

पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने अजमेर के किशनगढ़ में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेता डलब इंजन की सरकार की बात करते हैं। हिमाचल प्रदेश और कर्नाटक में भाजपा का इंजन सीज हो गया था। जो नेता यहां मंडरा रहे हैं, वो वहां भी खूब प्रचार कर रहे थे लेकिन, जीत कांग्रेस पार्टी की ही हुई। उन्होंने लोगों से अपील की कि आप 25 नवंबर को कांग्रेस का बटन दबाओ, और उनका इंजन सीज करो ।हम अगले साल दिल्ली वाला इंजन भी सीज कर देंगे।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ,विधानसभा अध्यक्ष डॉ सी पी जोशी ,प्रदेश प्रभारी सूखजिंदर सिंह रंधावा और अन्य केन्द्रीय नेता भी भाजपा को पटकनी देने की कांग्रेस हाईकमान की मंशा के अनुरूप सटीक रणनीति पर काम कर रहे है। राहुल गांधी और प्रियंका गाँधी भी प्रदेश में अपने तूफ़ानी दौरों पर आ रहें है।
राजस्थान के इस चुनावी रण की फिंजा आने वाले दिनों में रंग रंगीलों राजस्थान के सम्पूर्ण वातावरण को चुनाव के भाँति भाँति रंगों से सराबौर करने के लिए आतुर दिखाई दे रही है। देखना है यें रंग किस दल के लिए अधिक गहरे और किसके लिए फीके साबित होंगे?